BREAKING NEWS
Search

सुखद भविष्य का सब्जबाग दिखाकर ठगने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे

291

पंकज पाण्डेय की रिपोर्ट,

समस्तीपुर: हमारे संस्था द्वारा आयोजित की जाने वाली तीन परीक्षा उतीर्ण करें, और पांच हजार से पन्द्रह हजार रुपये के मानदेय पर वार्ड शिक्षक के रूप में नियुक्त होकर अपना भविष्य संवारे। लोकलुभावन इस विज्ञापन के माध्यम से बेरोजगार युवाओं को सुखद व सुंदर भविष्य के सपना दिखाते हुए उन्हें लुभाकर, मोटी राशि की उगाही वर्षों से कर रहे एक शातिर गिरोह कल पुलिस के हत्थे चढ़ा।

रविवार को सम्पूर्ण शिक्षा मिशन के तत्वाधान में कृष्णदेव उच्च विद्यालय, मालीनगर परीक्षा केन्द्र पर शिक्षक नियुक्ति के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी।प्रथम पाली की परीक्षा सम्पन्न हो चुकी थी। द्वितीय पाली में ली जाने वाली परीक्षा की तैयारी चल रही थी। तभी विद्यालय शिक्षा समिति के सदस्यों के साथ मानवाधिकार जनकल्याण सुरक्षा समिति के प्रदेश अध्यक्ष बृजेश मिश्र, पूर्व मुखिया विजय कुमार के साथ विद्यालय पहुंचे और परीक्षा की छानबीन शुरू की। इससे परीक्षा संचालकों में भगदड़ मच गयी।

उसके बाद सभी परीक्षार्थी हॉल से बाहर निकलकर नारा लगाने लगे। इधर, स्थानीय लोगों ने हंगामे की सूचना चकमेहसी पुलिस को दी।घंटों बीतने के बाद भी पुलिस के परीक्षा केन्द्र पर नहीं पहुंचने पर छात्र व अभिभावकों ने उच्चाधिकारियों को मोबाइल पर सूचित किया। तब जाकर उच्चाधिकारियों के निर्देश पर चकमेहसी थाने की पुलिस विद्यालय पहुंची और परीक्षा संचालकों में से एक को गिरफ्तार कर लिया। इसी बीच अन्य पांच सहयोगी परीक्षार्थियों से वसूली गयी मोटी रकम झोले में लेकर चंपत हो गए।

samastipur teacher arrested

Janmanchnews.com

थाने पर डीएसपी मो. तनवीर अहमद के समक्ष हुई पूछताछ में गिरफ्तार युवक ने अपनी पहचान वारिसनगर थाने के कुसैया गांव के रामलक्षण राय के पुत्र महेश कुमार के रूप में बतायी। जबकि परीक्षा केन्द्र पर उसने अपना नाम अवनीश कुमार बताया था। पुलिस परीक्षा केंद्र से एक कार भी जब्त की।

इधर विद्यालय शिक्षा समिति के सदस्य शशि ठाकुर, सुनैना देवी, विजय शर्मा आदि ने बताया कि विद्यालय परिसर में आयोजित परीक्षा में एक बैंक के अवकाश प्राप्त कर्मी भोला दास व उनका पुत्र परीक्षा संचालन के समय परीक्षा-केंद्र पर सक्रिय थे।उनकी भी संलिप्तता लग रही है।केंद्र पर पूछताछ के दौरान परीक्षार्थी मदनपुर की आरती कुमारी, मोहनपुर टारा की कविता कुमारी, जितवरिया के प्रकाश कुमार, अमता कुमारी आदि ने बताया कि विगत तीन सितम्बर को कल्याणपुर उच्च विद्यालय में मोटी राशि वसूल कर प्रथम परीक्षा ली गयी थी।

परीक्षा संचालकों ने तीन परीक्षा उतीर्ण करने वालों को वार्ड शिक्षक के पद पर नौकरी देने का झांसा दे रखा था। मौके पर उपस्थित सामाजिक कार्यकर्ता महेन्द्र साह ने बताया कि जिले  वर्षों से इस प्रकार की परीक्षा का आयोजन अलग-अलग परीक्षा केंद्र पर आयोजित कर बेरोजगार युवक-युवतियों से लाखों रूपया ठगा जा रहा है।