triagnle love

शेखपुरा में दिखा त्रिकोणीय प्रेम

149
Kirti mala

कीर्ति माला

शेखपुरा। शेखपुरा के हुसेनाबाद में एक त्रिकोण प्रेम देखने को मिला। हुआ ये कि दो प्रेमी विवाह के परिणय सूत्र में बंधने जा रहे थे तभी तीसरा प्रेमी आ धमका और लड़की का प्रेमी होने का दावा करने लगा।

ये था पूरा मामला…

दोनों प्रेमी की शादी के फैसले से घरवाले सहमत नही थें। लड़की के घर के लोग इस शादी के लिए तैयार नहीं थे, मुखिया आलोक द्वारा समझाने पर वे तैयार हुए। 21 साल की कंचन कुमारी अपने प्रेमी 22 साल के करण कुमार के साथ आलोक के पास आई थी और शादी करने की बात कही थी। गांव के मंदिर में दोनों की शादी की जा रही थी तभी खुद को कंचन का प्रेमी बताने वाला एक युवक वहां आ गया।

triagnle love

Janmanchnews.com

शादी के मंडप में पहुंचे लड़के ने कहा कि कंचन से वो दो साल से प्यार कर रहा है और अब वह किसी और से शादी कर रही है। जब कंचन से उस युवक के संबंध में पूछा गया तो उसने लड़के को पहचानने से इनकार कर दिया। प्रेमिका द्वारा पहचानने जाने से इनकार के बाद लड़के के पास वहां से चले जाने के शिवा कोई चारा न था और उसने वैसा ही किया।

कैसै हुआ कंचन को प्यार

घाटको सुम्भा के अमीरक महतो की बेटी कंचन शेखपुरा शहर के गिरहिण्डा मोहल्ले मे अपनी बहन के यहां रहकर पढ़ती थी। वहीं हुसैनाबाद के सुरेश महतो का 22 वर्षीय बेटा करण राज मिस्त्री का काम करता था। इसी बीच करण और कंचन मिले और दोनों को प्यार हो गया।

कंचन के परिजनों को बेटी का यह प्रेम प्रसंग मंजूर न था। वे लोग किसी कीमत पर करण से अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहते थे। करण कंचन को लेकर अपने गांव हुसैनाबाद आ गया। यह मामला पंचायत के मुखिया आलोक के पास गया।

दोनों ने एक-दूसरे का हाथ जिंदगी भर तक थामे रहने की कसमें खाते हुए विवाह करने की इच्छा जताई। करण के परिजन भी इस शादी के लिए राजी थी। पर कंचन के घरवालों की इच्के इच्छा नही थी। कंचन के घरवालों  के विरूद्ध ही दोनों परिणय सूत्र में बंध गए।