bjp- congress

भाजपा का गढ़ माना जाता है यह विधानसभा सीट, कांग्रेस को अब तक मिली है सिर्फ एक बार जीत

257

देवास। MP चुनाव को लेकर सभी दल अपनी पूरी तैयारी में लगी हुई है। भाजपा पिछले 15 सालों से सत्ता में बनी हुई है। वहीं कांग्रेस अपनी वापसी को लेकर पूरी मेहनत में लगी हुई है। ऐसे में बागली विधानसभा सीट सभी दलों के लिए बेहद खास है।

बागली विधानसभा MP के देवास जिले में आता है। दरअसल, बागली विधानसभा सीट भाजपा का गढ़ माना जाता है। कांग्रेस ने यहां से सिर्फ एक जीत हासिल कर पाई है।

बागली विधानसभा सीट 2008 से ही अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है। इस छेत्र में 60 फीसदी आदिवासी रहते है। यहां पर मतदाता की संख्या कुल 2 लाख 18 हजार 531 हैं। वहीं राज्य के पूर्व CM कैलाश जोशी यहां से नौ बार विधायक रह चुके है। यहां के विधानसभा सीट पर कांग्रेस सिर्फ एक ही बार भाजपा को हरा पाई है।

अब जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आते जा रहे है सभी दल इस सीट में जीत को लेकर अपनी पूरी तैयारी में लगी हुई है। भाजपा अपनी इस सीट को बरकार रखना चाहती है, तो वहीं अपनी वापसी को लेकर पूरी तैयारी में लगी हुई है। 

इस सीट पर भाजपा के तरफ से वर्तमान विधायक चंपालाल देवड़ा का नाम एक बार फिर टिकट की दावेदारी के लिए पेश किया जा रहा है। वहीं कांग्रेस की ओर से इस सीट पर रीना सोलंकी का भी नाम आगे चल रहा है।