sujit wilson found dead

तीन दिन से बोरवेल में फंसे बच्चे की मौत, क्षत-विक्षत हालत में शव निकाला गया

158

New Delhi: तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में शुक्रवार से बोरवेल में फंसे तीन साल के सुजीत की मौत हो गई है। एनडीआरएफ की टीम ने सोमवार देर रात उसका शव क्षत-विक्षत हालत में निकाला। मौके पर तैनात राजस्व प्रशासन के आयुक्त जे राधाकृष्णन ने 80 घंटे से जारी इस ऑपरेशन के रात 2:30 बजे पूरा होने की घोषणा की।

अस्पताल से ही श्मशान घाट ले जाया गया
बोरवेल के पास तैनात कर्मचारियों और अफसरों ने सोमवार रात 10:30 बजे दुर्गंध आने की बात कही, तब मेडिकल टीम ने हालात का जायजा लिया। बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मनप्पराई जीएच हॉस्पिटल ले जाया गया। पोस्टमॉर्टम के बाद मंत्रियों और अफसरों ने सुजीत को श्रद्धांजलि दी। शव को अंतिम संस्कार के लिए अस्पताल से ही फातिमा नगर स्थित श्मशान घाट ले जाया गया।

88 फीट की गहराई पर फंसा था सुजीत
सुजीत विल्सन शुक्रवार शाम तिरुचिरापल्ली में नादुकट्टुपट्टी में अपने घर के पास खेलते हुए बोरवेल में गिर गया था। वह 88 फीट की गहराई पर फंसा था। उसे बचाने के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, पुलिस और फायरब्रिगेड की टीम को लगाया गया था। बारिश और पत्थरों के कारण खुदाई में दिक्कतें आईं तो सोमवार को जर्मन ड्रिलिंग मशीन लगा दी गई, लेकिन सुजीत को बचाया नहीं जा सका।

  • तिरुचिरापल्ली में शुक्रवार को खेलने के दौरान 3 साल का सुजीत विल्सन बोरवेल में गिर गया था
  • घटना के तत्काल बाद एनडीआरएफ-एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गई थी