BREAKING NEWS
Search
Sant xavier school

फर्जी स्कूल संचालकों की अब खैर नहीं, अभिभावक ने ली अदालत की शरण

638
Share this news...

शिक्षा विभाग की तरफ से कोई कार्यवाही न होते देख, अभिभावक के खोला मोर्चा…आरोपियों पर गिरफ्तारी की लटकी तलवार।

शबाब ख़ान,

वाराणसी: जिले के चौक थाना अंतर्गत सोराकुआ स्थित फर्जी तरीके से संचालित गैर मान्यता प्राप्त श्री अग्रसेन शिशु विहार स्कूल के खिलाफ रुद्रांश मिश्रा के अभिभावक विपिन मिश्रा ने स्पेशल सी जे एम की अदालत में परिवाद दर्ज कराया है। जिसे माननीय कोर्ट नें संज्ञान में लेते हुए कार्यवाई के निर्देश जारी कर दिया है।

ज्ञात हो की पूर्व में अभिभावक विपिन मिश्रा ने सुचना के अधिकार के अधिनियम 2005 के अन्तर्गत इस विद्यालय के लिए मान्यता संबंधी जानकारी पाने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में आवेदन किया था। वहां से यह पता चला की इस विद्यालय को कोई मान्यता प्रदान नहीं की गयी है और विद्यालय का संचालन फर्जी तरीके से किया जा रहा है। इस पर अभिभावक ने मुख्यमंत्री से लेकर शिक्षा विभाग के तमाम उच्चाधिकारियों को इस प्रकरण से अवगत कराया था और कार्यवाही की मांग की थी।


लेकिन लंबे अरसे तक जब कोई कार्यवाही होते नही दिखाई तो अभिभावक ने अपनें अधिवक्ता के जरिये अदालत की शरण ली। और सीआरपीसी की धारा 156(3) के तहत श्री काशी अग्रवाल समाज जोकि उक्त स्कूल को संचालित करता है सहित स्कूल के पूर्व प्रबंधक संतोष अग्रवाल और वल्लभ अग्रवाल प्रधानाचार्या श्रीमती संगीता सेठ के खिलाफ आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468, 504, 506 एवं धोखाधड़ी जैसी गंभीर धाराओं में परिवाद दाखिल किया। अदालत ने मामले की गंभीरता को देखते हुए वादी की याचना को स्वीकार करते हुए परिवाद दर्ज कर लिया और मामले में बयान और साक्ष्य के लिए अगली तिथि मुकर्रर कर दी।

आपको बता दें की यह विद्यालय कई वर्षों से पूरी प्लानिंग के तहत बिना मान्यता के ही फर्जी तरीके से संचालित किया जा रहा था। अब देखने वाली बात ये होगी की योगी सरकार क्या शिक्षा माफियाओं के बलबूते इस तरह के फर्जी स्कूलों को संचालित कर रहे धन्नासेठ से बाहुबली बनें लोगो पर अपना चाबुक चलाती है या नही।

Share this news...