BREAKING NEWS
Search
Illegal mines

अवैध इट भट्टों से निकली ईंटों से दौड़ रही सरकारी विकास योजनाओं की गाड़ी

472
Saurav Kumar

सौरभ कुमार

सरायकेला: झारखंड के सरायकेला खरसवन जिला में अवैध रूप से चिमनी इट भट्टा का संचालन नियमों को ताक में रख कर किया जा रहा है। उसका खुलासा जिला खनन पदाधिकारी संजीव कुमार ने सरायकेला, सीनी व गम्हरिया के विभिन्न चिमनी ईट भट्टा का औचक निरीक्षण किया।

Sanjeev Kumar

File Photo: जिला खनन पदाधिकारी संजीव कुमार निरीक्षण करते हुए

निरीक्षण में पाया कि ईट भट्टा संचालक बगैर माईनिंग क्लिरेंस के ही ईट भट्टा का संचालन कर रहे हैं। निरीक्षण में उन्होंने 17 चिमनी ईट भट्टा का औचक निरीक्षण किया जिसमें दो बंद था जबकि 15 भट्टा चालु था। पंद्रह चालु भट्टा में एक भट्टा का कागजात था बाकि 14 भट्टा बगैर खनन विभाग के क्लियरेंस के चलाया जा रहा है। खनन पदाधिकारी ने बताया कि निरीक्षण में माईनिंग कागजात के बारे में जानकारी हासिल किया परंतु एक भट्टा को छोड़ कर बाकि किसी भी भट्टा संचालकों द्वारा माईनिंग क्लियरेंस का कागजात नहीं दिया जा सका।

उन्होंने बताया कि चिमनी भट्टा का कार्य अक्टूबर माह से चल रहा है। इस दौरान खनन विभाग को लगभग दस लाख राजस्व का चुना लगा हुआ है। उन्होंने बताया कि पुर्व में विभाग द्वारा ईट भट्टा संचालकों को नोटीस जारी करते हुए राजस्व जमा करने व क्लियरेंस प्राप्त करने का निर्देश दिया गया था परंतु किसी के द्वारा भी जमा नहीं किया गया है।

अगर राजस्व जमा नहीं किया जाता है तो ईट भट्टा को बंद करने की कारवाई किया जाएगा। उन्होंने कहा कि चिमनी ईट भट्टा को राजस्व जमा करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया है। इसके लिए उन्हें नोटीस भी जारी किया गया था। अगर एक सप्ताह में राजस्व जमा नहीं किया जाता है तो उन पर कारवाई किया जाएगा।