BREAKING NEWS
Search
Bandit Shila

चंबल के घाटियों में था जिस लेडी डाकू का ख़ौफ आज वह न्याय के लिए लगा रही है गुहार

1238
Sarvesh Tyagi

सर्वेश त्यागी

ग्वालियर। जिसके नाम से कभी चंबल की घाटी थर्राती थी, इलाके में उसकी आमद का पता चलने पर पुलिस के कान खडे़ होते थे। आज उस दस्यु सुंदरी शीला को फरेबी पति छोड़ कर चला गया।

करीब एक साल से ये दस्यु सुंदरी ग्वालियर पुलिस के अलाधिकारियों से लेकर सीएम को पत्र लिख चुकी है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है, आलम ये है कि अब पुलिस थानों के गलियारें में पुलिसकर्मी दस्यु संदुरी का मजाक उडा रहे हैं।

दो दशक पहले तक चंबल के बीहड़ो में कभी पुलिस का सिरदर्द रहने वाली दस्यु सुंदरी शीला गुर्जर (पूर्व दस्यु) आज खुद मजबूर है शीला पिछले छह महीने से थाने से एसपी तक को पति के फरेब की कहानी सुना रही है। इंसाफ की आस में शीला जनकगंज थाने से एसपी ऑफिस तक चक्कर लगा चुकी है।

शीला कहती है कि उसका उत्तरप्रदेश में जाने पर पाबंदी है। ससुराल से बरसों पहले नाता टूट चुका है। कुछ महीनों पहले पति कल्लू भी उसके जेवर और नकदी लेकर फरार हो गया है। थाने में शिकायत के बावजूद उसे कोई मदद नही मिल रही है।

शीला का कहना है कि थाने जाती है तो पुलिस वाले उसे शीला डकैत कहकर बुलाते हैं, जनकगंज टीआई ने तो शीला से ये तक कह दिया कि तुम हथियार उठाकर फिर से डकैत बन जाओ।

आज न्याय के लिए पुलिस के चक्कर लगा रही शीला का किसी जमाने में आतंक था। नब्बे के दशक में भिण्ड में किराना कारोबारी नवल शिवहरे का दुकान से घसीट कर अपहरण करने के बाद चंबल के बीहडों में उसके आतंक का डंका बज गया था। हालांकि जुर्म की दुनिया में कुछ बरस गुजारने के बाद सरेंडर किया और जेल गई।

जेल से निकलने के बाद भंवरपुरा में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बन गई। इस दौरान उसने मुरैना जिले के नूराबाद के रहने वाले कल्लू गुर्जर से पटिया बाले बाबा के मंदिर में 7 जन्म तक साथ निभाने की कसमें खा कर से शादी कर ली और पति कल्लू सिर्फ सात साल में उसे छोड़ कर भाग गया।

शीला गुर्जर का कहना है उसने कल्लू के साथ मिलकर ग्वालियर की गोल पहाडिया पर घर बनाकर करीब 7 साल तक साथ रही। छह महीने पहले वह बाजार गई थी, तब कल्लू घर से 85 हजार रुपए और 9 तोला वजनी जेवर लेकर भाग गया। अब मुंह खोलने पर मारने की धमकी दे रहा है। वहीं एसपी ने इस मामले के संज्ञान में आने पर कार्रवाई की बात कही है।