BREAKING NEWS
Search
toll plaza

फर्जी पहचान दिखाकर टोल पर गाड़ी निकालने की शिकायत आई सामने

417
Share this news...
परविन्दर राजपूत की रिपोर्ट-
मथुरा। मथुरा से अर्द्धसैनिक बल और पैरामिलिट्री फोर्स के कर्मियों की इन दिनों दिल्ली की दौड़ बढ़ गई हैं। हाईवे और एक्सप्रेस के टोल से इसका खुलासा हो रहा हैं। हाईवे पर हर रोज सैन्य बलों का पास दिखाकर 400 गाड़ियां निकलती हैं।

जबकि एक्सप्रेस वे से 300 गाड़ियां जा रही हैं। वहीं, सैन्य बलों की इंटेलीजेंस को पता चला है कि कुछ लोग फर्जी कार्ड टोल पर इस्तेमाल कर रहे हैं। लिहाजा हर टोल पर जांच शुरू कराई जा रही हैं।

उत्तर प्रदेश के विभिन्न राजमार्गों पर स्थापित टोल प्लाजा और एक्सप्रेस वे के प्लाजा से सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को रिपोर्ट भेजी जा रही थी कि विभिन्न सुरक्षा बलों के आई कार्ड पर गाड़ी निकालने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं। इसमें पुलिस फोर्स के अफसरों के नाम के कार्ड भी शामिल हैं। 

वहीं आगरा-दिल्ली हाईवे के टोल पर सेना के नाम के फर्जी कार्ड दिखाकर गाड़ी निकालने की शिकायतें सेना की खुफिया विंग तक पहुंच रही थीं। लिहाजा महुअन टोल पर चेकिंग की, जिसमें 23 फर्जी पहचान पत्र पकड़े गए। लगातार चेकिंग कराई जा रही हैं।

दूसरे टोल से भी सैन्य बलों के पहचान पत्र पर गाड़ी निकालने की शिकायतें आ रही हैं। लिहाजा वहां भी जांच शुरू होगी। यमुना एक्सप्रेस वे पर ही सैन्य बलों के आईकार्ड के नाम पर हर रोज करीब 300 गाड़ियां पास होती हैं। खुफिया एजेंसियां मान रही हैं कि कुछ लोगों ने फर्जी पहचान पत्र बना लिए हैं। कुछ ने स्कैन कर लिए हैं।

इन लोगों की धरपकड़ को अभियान चलाया जा रहा हैं। सभी टोल पर चेकिंग कराई जाएगी। ताकि सैन्य बलों के नाम पर गोलमाल करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा सके। पुलिस की भी मदद ली जा रही है। मथुरा जिले से इसकी शुरूआत की जा रही हैं।

पुलिस के रिटायर्ड अधिकारी भी टोल पर अपना कार्ड दिखाकर टोल देने से इंकार कर देते हैं। इसे लेकर भी टोल पर काफी बहस होती है। इसकी शिकायतें तो कई दफा थानों तक पहुंची हैं।

थानाध्यक्षों ने पहुंचकर मामला शांत कराया। आगरा-दिल्ली हाईवे, आगरा-नोएडा यमुना एक्सप्रेसवे, आगरा से लखनऊ एक्सप्रेसवे, लखनऊ-दिल्ली हाईवे, मथुरा-भरतपुर-जयपुर हाईवे और पैरीफेरल एक्सप्रेसवे आदि  रूट पर हो रहा सबसे ज्यादा इस्तेमाल।

Share this news...