BREAKING NEWS
Search
प्रेरक

बछरावां विधायक से मिल प्रेरको नें किया स्थाईकरण की मांग

556

संविदाकर्मी 23 जनवरी से है धरने पर, फिलहाल कोई सुनवाई नही…

Rahul Yadav

राहुल यादव

 

 

 

 

 

रायबरेली: मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार से संचालित साक्षर भारत मिशन मे संविदा पर कार्यरत प्रेरक और समन्वयक विगत 23 जनवरी से अनिश्चितकालीन धरने पर है। रविवार को राष्ट्रीय साक्षरता कर्मी महासंघ के पदाधिकारियो ने बछरावां से भाजपा विधायक एवं सभापति अनुसूचित जाति जनजाति श्री रामनरेश रावत से मिल कर उन्हे अपनी समस्याओ से अवगत कराया।

संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अकमल खान और प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार सिंह ने वार्ता के दौरान अप्रैल 2016 मे माननीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता मे आयोजित अधिकार दिलाओ रैली की याद ताजा की, उन्होंने कहा कि मोहनलालगंज से सांसद कौशल किशोर द्वारा आयोजित उक्त रैली मे माननीय गृह मंत्री ने प्रदेश मे भाजपा की सरकार बनने पर संविदाकर्मियो को नियमित करने का वादा किया था। लेकिन आज तक भाजपा सरकार ने इस दिशा मे कोई कदम नही बढ़ाया।

प्रेरक पदाधिकारियो ने कहा कि 30 माह से बकाया मानदेय समेत विभिन्न समस्याओ को लेकर लगातार प्रेरको मे सरकार के प्रति नाराजगी बढ़ रही है। समय रहते माननीय मुख्यमंत्री महोदय को इस पर विचार करते हुए प्रेरको के भरण-पोषण पर प्रभावी कदम उठाने की जरूरत है। अन्यथा की स्थिति मे वर्ष 2019 के आम चुनाव मे भाजपा का नुकसान निश्चित है।

बातचीत मे माननीय विधायक ने कहा कि भाजपा सरकार मे कर्मचारियो के नुकसान की कोई गुंजाइश नही है। अलबत्ता व्यवस्थाओ को सुधारने थोड़ा समय जरूर लग सकता है। माननीय विधायक ने प्रेरको के मामले को बेसिक शिक्षा मंत्री और मुख्यमंत्री के संज्ञान मे लाकर निराकरण कराने का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर राष्ट्रीय सचिव अजमल खान भी मौजूद रहे।