एक ही परिवार के तीन मासूम बेटों की मौत से मचा कोहराम

473
Mithiliesh Pathak

मिथिलेश पाठक

श्रावस्ती। कहते हैं मौत कब किधर से किस रूप में दस्तक दे कोज नही जानता, ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले से हैं, जहां पर विषाक्त भोजन खाने से एक ही परिवार के तीन बेटों की मौत हो गई। जिसके बाद पूरे गांव में मातम पसर गया। मरने वालों में तीनों सगे भाई थे। जहरीला साग खाने से मौत का कारण बताया जा रहा है।

मामला श्रावस्ती जिले के भिनगा कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मदरहवा का है। “रामगोपाल” मेहनत मजदूरी करके अपने तीन बच्चों का भरण पोषण करता था। रामगोपाल की मां, पत्नी, तीन पुत्र थे। गुरुवार की शाम को मां ने दूसरे के खेत से सरसों का साग खोट कर लाई थी और वह बच्चों को साग बनाकर खिलाने लगी अचानक तीनो बेटों को उल्टी होने लगी।

मां जब तक कुछ समझ पाती तब तक 4 साल के चाबू, 6 साल के कौशल की मौके पर मौत हो गई। जबकि 9 साल के लवकुश को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान लवकुश ने भी दम तोड़ दिया।

वही मां पिता की भी तबीयत खराब हो गई। जिनका इलाज के बाद हालात स्थिर होने पर अस्प्ताल से छुट्टी कर दी गई। इस घटना से पूरे गांव में मातम पसर गया सूचना के बाद डीएम दीपक मीणा, एसपी आशीष श्रीवास्तव ने घटना का मुयायना कर जरूरी कार्रवाई के निर्देश दिए है।

वही गांव में नेताओ का भी जमावड़ा लग गया। स्थानीय विधायक के साथ कई भाजपा नेता भी गांव पहुंच कर पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।