BREAKING NEWS
Search
एसडीएम जीवन रजक

भारी बारिश पर नर्मदा डैम को लेकर देवास जिला प्रशासन हुई अलर्ट

441
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। पूर्वी मध्य प्रदेश में अच्छी बारिश से जहां बरगी डैम फुल टैंक लेवल पर पहुंच गया है। वहीं प्रदेश के अन्य बांध फिलहाल खाली है। बरगी को छोड़कर प्रदेश के अन्य 16 बांध में पानी का स्तर फुल टैंक लेवल से 7 से 11 मीटर नीचे है। हालांकि बरगी डैम से पानी छोड़े जाने के बाद अब तवा और नर्मदा नदी पर बने डैम का जलस्तर बढ़ने की संभावना है।

वही 24 जुलाई को बरगी डैम का जलस्तर फुल टेक लेवल के करीब आने पर 21 में से 7 गेट खोल दे गए थे। बाद में इसके चार गेट बंद कर दिए गए। गुरुवार को डैम के तीन के गैट आधा मीटर तक खुले रहे है।  2 दिन लगातार डैम के गेट खुले रहने से तवा अंगारेश्वर इंदिरा सागर डैम का जलस्तर बढ़ेगा।


बरगी डैम के गेट खुलने के बाद नर्मदा नदी में पानी इतना बढ़ गया है। जबलपुर का धुआंधार जलप्रपात पानी की वजह से गायब हो गए । बड़े पैमाने पर पानी छोड़ने की वजह से जबलपुर नरसिंहपुर होशंगाबाद सिवनी सिहोर रायसेन देवास खंडवा खरगोन में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

अनुविभागीय अधिकारी जीवन रजक ने नेमावर नर्मदा नदी मैं बढते जल स्तर को मध्येनजर रखते हुए नेमावर सहित आसपास के नर्मदा नदी के नीचले तटीय क्षेत्रों का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। दरअसल, बारिश के दिनों मैं नर्मदा मैं बढते जलस्तर के कारण नीचली बस्तियों में जलजमाव की स्थिति निर्मित हो जाती हैं जिसके कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है।

उस स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन बारिश के दिनों में अपनी पैनी नजर नेमावर सहित नर्मदा के नीचले तटीय क्षैत्रों मैं रखती है। दौरे के दौरान एसडीएम जीवन रजक के साथ नेमावर टीआई सज्जन सिंह मुकाती पटवारी रायसिंह देवडा चौकीदार रवि एवं अन्य लोग मौजूद थे।