BREAKING NEWS
Search
checking

बिना ड्राइविंग लाइसेंस के चला रहे ट्रैक्टर चालक के विरुद्ध अब होगी कार्रवाई

508
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। जिले में करीब 4500 से अधिक ट्रैक्टर ऐसे है। जो बिना आरटीओ में पंजीयन के चल रहे है। आरटीओ में पंजीकृत टैंक्टरो की संख्या केवल 1500 के करीबी है। बिना पंजीयन के ये हजारों ट्रैक्टर अधिकांश वे ही चलाते है। जिनके पास इसे चलाने का लाइसेंस भी नहीं है। कई बार हादसों में ट्रैक्टर ट्राली पलट चुके हे।

अब जिले में सहित प्रदेश में बिना लाइसेंस ट्रैक्टर चलाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। जिन जिलों में ट्रैक्टर चालकों की लापरवाही से वाहन दुर्घटना अधिक घटित हुई है और चालको के पास लाइसेंस नहीं है ऐसे को चिन्हित कर बिना लाइसेंस ट्रैक्टर चलाने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह निर्णय मुख्य सचिव BP सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया। सुप्रीम कोर्ट कमेटी ऑन रोड सेफ्टी द्वारा बैठक में प्रदेश में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं से हो रही मृत्यु के संबंध में चर्चा कार्य योजना तैयार करने के लिए विचार विमर्श हुआ ,इस संबंध में जिला प्रशासन के पास आगे की कार्रवाई के लिए आदेश भी जारी किए गए हे!

बैठक में निर्णय लिया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी यातायात नियमों के उल्लंघन करता वाहन चालकों के विरुद्ध अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई की जाए। शहरी इलाकों की तुलना में ग्रामीण इलाकों में सड़क दुर्घटना की संख्या से होने वाली मृतकों की संख्या में वृद्धि हुई है। बरसात के मौसम में राष्ट्रीय राजमार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग और अन्य मार्गों पर आवारा मवेशियों के प्रवेश पर रोकथाम के लिए आवश्यक कार्यवाही करने को भी कहा गया है।

वह गलत दिशा में सड़क पर लापरवाही एवं तेज गति से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया। माल वाहनों में यात्रियों का परिवहन करने वाले चालक ओवरलोड वाहन चलाते हैं यह दुर्घटना और उनकी मृत्यु के प्रमुख कारण बताएं इसके विरुद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए हे।