abhinandan-pak

अभिनंदन को वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आई महिला की हर ओर हो रही है चर्चा 

807

नई दिल्ली। पाकिस्तान ने आखिरकार भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को छोड़ दिया है। शुक्रवार रात नौ बजे के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स और विदेश विभाग के अधिकारी अटारी-वाघा बॉर्डर तक विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने आए थे। इस दौरान एक महिला भी विंग कमांडर अभिनंदन के साथ मौजूद थी, जिनकी हर ओर चर्चा हो रही है।

महिला भी अभिनंदन के अटारी-वाघा बॉर्डर तक चलकर आईं। इस महिला पर सबकी निगाह लगी रही और सवाल उठने लगे कि आखिर यह महिला कौन है? यह महिला विंग कमांडर अभिनंदन की न तो पत्नी है और न ही रिश्तेदार। यह महिला पाकिस्तान विदेश विभाग में भारत मामलों की डायरेक्टर हैं, जिसका नाम डॉ. फरिहा बुगती है।

फरिहा बुगती पाकिस्तान विदेश सेवा की अधिकारी हैं, जो भारतीय विदेश सेवा के समकक्ष है। डॉ. फरिहा बुगती भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव मामले को भी देखती हैं। फिलहाल जाधव पाकिस्तान की गिरफ्त में हैं। पिछले साल जब जाधव की मां और पत्नी उनसे मिलने पाकिस्तान गए थे, तब भी डॉ फरिहा बुगती मौजूद थीं।

ज्ञात हो कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला किया था। इसमें काफी संख्या में आतंकी मारे गए थे। भारतीय वायुसेना के मिराज विमान अपने मिशन को अंजाम देने के बाद सकुशल वापस लौट आए थे और पाकिस्तान कुछ समझ नहीं पाया था।

जब पाकिस्तान को इसकी जानकारी हुई, तो वो बौखला गया और फिर भारतीय क्षेत्र पर हवाई हमला किया। पाकिस्तान ने F-16 लड़ाकू विमानों से भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन ने इसको मार गिराया।

इस दौरान अभिनंदन का विमान मिग-21 भी गिर गया और वो एग्जिट कर गए थे। इसके बाद वो पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में पहुंच गए थे और पाकिस्तानी सेना ने उनको बंधक बना लिया था।