BREAKING NEWS
Search
DM Meena

प्रधानों को ‘‘टायलेट एक प्रेम कथा’’ फिल्म दिखाकर शौचालय बनवाने हेतु किया गया जागरूक

567

गांव के विकास में सचिव एवं प्रधानो की अहम भूमिका-जिलाधिकारी…

Mithiliesh Pathak

मिथिलेश पाठक

श्रावस्ती। देश के विकास का रास्ता गांव के गलियारों से होकर जाता है। इसलिए गांव का विकास होगा तो निश्चित ही देश एंव प्रदेश का विकास होगा। अशिक्षा समाज के समुचित विकास में बाधक रही है।

इसलिए सभी लोगों को शिक्षित किए बिना सम्पूर्ण विकास की परिकल्पना नही की जा सकती है, प्रदेश सरकार गांव के विकास के लिए प्रतिबद्ध है जिसके लिए गावों को विकसित करने के लिए तमाम योजनाओं का संचालन किया गया है। सचिव एवं प्रधानो की गांव के विकास में अहम भूमिका है इसलिए गांव के विकास के लिए हर योजनाओं को पारदर्शिता के साथ अमल किया जाए ताकि गांवो के तस्वीर को बदला जा सके।

उक्त विचार कलेक्ट्रेट तथागत हाल में आयोजित ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ा कार्यक्रम में प्रधानो एवं सचिव को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी दीपक मीणा ने व्यक्त किया। उन्होने कहा कि ने कहा कि गांव के विकास के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही है प्रधानों को गांव के विकास के लिए प्रथम वरीयता एंव आवश्यकताओं के अनुरूप कार्य योजना बनाकर गांव को विकसित करें ताकि जनपद के गावों को माडल रूप दिया जा सके।

जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि सभी ग्राम प्रधान/सचिव अपने अपने क्षेत्रों में पात्रता के आधार पर सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं से लोगों को लाभान्वित करें और इसमें यह भी ध्यान रखें कि वास्तविक में कमजोर और असहाय गरीब व्यक्ति किसी भी दशा में वचिंत न रहने पावे। यदि इसमें किसी भी तरह की शिकायत मिली तो सम्बन्धित के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी।

DM Meena

Janmanchnews.com

उन्होने यह भी कहा कि जो भी ग्राम प्रधान समय से धन राशि खर्च कर गांव में विकास कार्य करा लेगें उन्हे तत्काल अगली किस्त की धनराशि अवमुक्त कर दी जाएगी। ताकि गांव के विकास कार्य में बाधा उत्पन्न न होने पावें। उन्होने यह भी कहा कि जो भी विकास कार्य करायें जाएं। उसमें गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। सत्यापन के दौरान यदि गुणवत्ता में कमी मिली तो निश्चित ही ग्राम पंचायत अधिकारियों के साथ ही ग्राम प्रधानों पर भी कडी कार्यवाही होगी।

जिलाधिकारी श्री मीणा ने सभी ग्राम प्रधानों/सचिवों को निर्देश दिया है कि अपने-अपने ग्राम पंचायत के प्राथमिक विद्यालयों/आंगनवाडी केन्द्रों में सफाई कर्मचारियों का कार्य करने का रोस्टर, प्रधानमंत्री ग्रामीण अवास योजना, मनरेगा, राज्य वित्त/चैदहवें वित्त द्वारा कराये गए कार्यो एवं कराये जा रहे कार्यो का विवरण आदि की वालपेन्टिग प्राथमिकता के आधार पर कराना सुनिश्चित करें।

उन्होने यह भी निर्देश दिया कि प्रधान एवं ए0एन0एम0 के साथ चल रहे अन्टाइड फण्ड का पैसा जल्द से जल्द कार्य कराकर उसे समाप्त करें। जिलाधिकारी ने सभी प्रधानों/सचिवों को यह भी निर्देश दिया कि शौचालय के लिए जंहा-जंहा पैसा भेज दिया गया है तत्काल बनवाना सुनिश्चित करें तथा जो शौंचालय बन गए है लेकिन अभी तक पुताई/लाभार्थी का नाम, फोटो अपलोडिंग नही कराया गया है उसको जल्द से जल्द कराकर एम0आई0एस0 फीडिंग करा लें।

जिलाधिकारी ने सभी ग्राम प्रधानों से कहा कि टीकाकरण के लिए मिशन इन्द्र धनुष का जो महा अभियान चल रहा है उसमें सहभागिता निभावें तथा लोगों को जागरूक कर ज्यादा से ज्यादा टीकारण करावें।

कार्यक्रम के बाद स्थानीय जानकी चित्र मन्दिर ‘‘टायलेट एक प्रेम कथा’’ फिल्म दिखाकर प्रधानों को शौंचालय बनवाने हेतु जागरूक किया गया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शिव नारायण, जिला पंचायत राज अधिकारी आर0वी0 सिंह, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन डॉ0 राज कुमार त्रिपाठी सहित जिले के समस्त ग्राम पंचायतों के प्रधानगण व सचिव उपस्थित रहे।