BREAKING NEWS
Search
Door to door ration delievery in delhi by government

दिल्ली में अब घर-घर राशन पहुंचाएगी केजरीवाल सरकार, कैबिनेट ने दी योजना को मंजूरी

199

New Delhi: दिल्ली में मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना को केजरीवाल कैबिनेट ने मंगलवार को मंजूरी दे दी। इस मौके पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गरीबों को राशन लेने में बहुत परेशानी होती है। राशन गरीबों का हक है। गरीब लोगों के हक को दिलाने के लिए दिल्ली कैबिनेट ने मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना को मंजूरी दी है। अब लोगों को उनके घर पर सरकार राशन पहुंचाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो राशन कार्ड धारक इस योजना में शामिल नहीं होना चाहेंगे और दुकान से ही राशन लेना चाहेंगे तो उन्हें वह अधिकार रहेगा।

केंद्र सरकार की वन नेशन वन राशन कार्ड की योजना दिल्ली में होगी लागू

सीएम केजरीवाल ने बताया कि घर-घर राशन पहुंचाने के लिए गेहूं की जगह आटा दिया जाएगा। जिस दिन दिल्ली में राशन की होम डिलीवरी शुरू होगी उसी दिन केंद्र सरकार की वन नेशन वन राशन कार्ड की योजना दिल्ली में लागू कर दी जाएगी। अगले छह से 7 महीने में होम डिलीवरी राशन की शुरू हो जाएगी।

योजना पर सीएम केजरीवाल ने जताई खुशी

डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि व्यक्तिगत तौर पर मेरे लिए यह बहुत खुशी की बात है। क्योंकि राजनीति में आने से पहले मैं और मनीष सिसोदिया परिवर्तन नाम की संस्था चलाया करते थे। दिल्ली की झुग्गी बस्तियों के अंदर गरीब लोगों के साथ काम किया करते थे। गरीबों के हक के लिए काम करते थे। जब उनको राशन नहीं मिलता था तो उनको राशन दिलाने के लिए काम करते थे। सूचना का अधिकार कानून का सबसे ज्यादा इस्तेमाल हमने लोगों को राशन दिलवाने में किया।

क्यों शुरू की जा रही है यह योजना, सीएम ने बताया

सीएम ने कहा कि उन दिनों में लोगों का राशन चोरी हो जाया करता था और पूरा राशन नहीं मिलता था। सरकारी कागजात में तो एंट्री हो जाती थी कि हमने सबको राशन दे दिया और सब के फर्जी अंगूठे भी लग जाते। जिस तरह हमने डोर स्टेप डिलीवरी ऑफर सर्विस किया था। इसी तरह से गवर्नेंस के क्षेत्र में डोर स्टेप डिलीवरी ऑफ़ राशन बहुत बड़ा कदम होगा।