BREAKING NEWS
Search
Chhapra Maker BJP

भाजपा मकेर मंडल ने मंडल कार्यालय सहित 56 बूथों पर मनाया डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस

162

छपरा (मकेर)। भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस सादगी के साथ मंडल कार्यालय सहित मंडल के आठों शक्तिकेंद्र के 56 बूथों पर मनाया गया। कार्यक्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं ने श्यामा प्रसाद को श्रद्धांजलि अर्पित की। साथ ही उनके बताए रास्ते पर चलने का संकल्प लिया।

मंगलवार को मकेर भाजपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाध्यक्ष रामदयाल शर्मा, वरिष्ठ भाजपा नेता कामेश्वर ओझा, अमनौर विधानसभा प्रभारी अभिमन्यु सिंह, जयशंकर वैठा के निर्देशन में मंडल अध्यक्ष सुचिन्द्र साह ने जनसंघ संस्थापक को पुष्पांजलि अर्पित कर किया।

उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी प्रखर राष्ट्रवादी इंसान थे। मुखर्जी ने कभी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। वे द्विराष्ट्र की विचारधारा का हमेशा विरोध करते रहे। सारण कोषाध्यक्ष सुधीस कुमार ने कहा कि मुखर्जी का कहना था कि एक देश में दो प्रधान, दो विधान और दो निशान नहीं होने चाहिए। एक देश की जन भावना से कार्य होने चाहिए। मुखर्जी कहते थे कि देश के किसी भी राज्य में धारा 370 की आवश्यकता नहीं है। सभी नागरिकों को समान दृष्टि से देखा जाना चाहिए। आज हमारी भाजपा पार्टी ने जम्मू कश्मीर से 370 धारा हटाकर देश में एक देश एक प्रधान का कानून बनाकर डाँ मुखर्जी को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की है।

सारण भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष निरंजन शर्मा ने कहा कि डॉ. मुखर्जी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने अपने अल्प जीवनकाल में ख्याति प्राप्त कर देश को नई दिशा देने का काम किया। उन्होंने देश की एकता अखंडता कायम रखने के लिए अपने प्राणों का बलिदान कर दिया जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता।

सारण अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्ष नागेश्वर बैठा ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी सच्चे देश भक्त थे। उन्होंने देश व समाज की रक्षा के लिए अपनी जान गंवा कर भारत को अखंड बनाए रखने का संदेश दिया।

श्रद्धांजलि देने वालों में जिला, मनीष मलहोत्रा, अशोक मलहोत्रा, सुनिल टाईगर, विट्टू शर्मा, अतुल श्रीवास्तव, सुबोध शर्मा, संदीप भारती, सुधाकर मिश्र, रत्नेश कुमार, राजीव कुमार, संतोष कुमार, बाल्मीकि मिश्र, बिनोद मिश्र आदि शामिल रहे।