arvind kejriwal

केजरीवाल ने कहा- दिल्ली में पीने का पानी खराब, हम इसकी गुणवत्ता सुधार रहे

122

दिल्ली में पीने के पानी की गुणवत्ता खराब होने पर आई भारत मानक ब्यूरो की रिपोर्ट (बीआईएस) को गलत बताने वाले मुख्यमंत्री अरविंद केजरवाल एक हफ्ते बाद ही अपने बयान से पलट गए हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा- हम पानी पर राजनीति नहीं करना चाहते। इसकी गुणवत्ता सुधारने की कोशिश कर रहे हैं।

केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने पिछले रविवार को संसद में भी यह मुद्दा उठाया था। उन्होंने कहा था कि केजरीवाल को रिपोर्ट पर भरोसा न हो तो अपने अफसरों को भेजकर इसकी जांच करा लें। बीआईएस ने अपनी रिपोर्ट में दिल्ली के पानी की गुणवत्ता बेहद खराब बताई है।

गंदे पानी के लिए पिछली सरकारें जिम्मेदार- केजरीवाल
केजरीवाल ने कहा कि वह दिल्ली में पानी की आपूर्ति से संबंधित ढांचागत सुविधाएं सुधारने की कोशिश कर रहे हैं। पिछली सरकारों ने इसे पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया। अगर किसी को गंदा पानी मिल रहा है तो शिकायत करें, हम समाधान करेंगे। उन्होंने कहा कि 2015 में दिल्ली में 2,300 स्थानों पर अशुद्ध जल की समस्या थी। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार आने के बाद इसकी संख्या घटकर 125 रह गई। हम इसे और कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

दिल्ली में अब नल कनेक्शन पर शुल्क नहीं लेंगे: केजरीवाल

केजरीवाल ने जल और सीवर कनेक्शन पर लिए जाने वाले शुल्क को खत्म कर दिया है। उन्होंने कहा कि अब लोगों से डेवलपमेंट और इंस्टॉलेशन चार्ज नहीं लिया जाएगा। दिल्ली में पाइपलाइन बिछाने का काम भी सरकार अपने खर्च पर करेगी।