BREAKING NEWS
Search
किसानों

किसानों ने 20 सूत्रीय मांगों को लेकर की पंचायत

371
Share this news...

कृषि ऋण को भी उद्योगपतियों की तरह ही देने की वकालत की गई…

Mithiliesh Pathak

मिथिलेश पाठक

 

 

 

 

 

 

श्रावस्ती: भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने अपनी 20 सूत्रीय मांगों को लेकर तहसील इकौना में पंचायत कर धरना प्रदर्शन किया। धरना के माध्यम से किसानों ने बढ़े मालगुजारी को वापस लेने, किसानों के कर्ज माफ करने, संशोधित फसल बीमा लागू करने आदि की मांग की।

श्रावस्ती जिले के इकौना तहसील में आयोजित धरना को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष राम स्वरूप वर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने 1 मार्च 2016 से किसानों से 1.5 से 2 प्रतिशत बीमा की राशि लेकर किसानों को फसल बीमा करने को कहा है। लेकिन सरकार ठीक से इसे लागू नहीं कर रही है। किसानों के कर्ज माफ तो किया गया लेकिन किसानों का शोषण किया गया।

उन्होने मांग की कि सभी किसानों का कर्ज माफ होना चाहिए। कर्ज माफ हो जाने से किसान चैन से खेती कर सकते हैं। कर्ज के बोझ तले दबे किसान राहत की सांस लेंगे। उन्होंने कृषि ऋण को उद्योगपतियों की तरह देने की वकालत करते हुए कहा है जब उद्योग घाटे में चला जाता है। तो उनका ऋण माफ कर दिया जाता है, तो किसानों का ऋण माफ करने में क्या परेशानी है। उन्होंने कहा कि यदि किसानी अच्छी हुई तो उद्योगपति की तरह किसान भी कर्ज बैंक को वापस कर देंगे।

इस पंचायत में विनोद शुक्ला, सोम शर्मा, जुगुल मिश्रा, सुंदर लाल, बाँकेलाल चौधरी, स्वामी दयाल पटेल, कैलाश नाथ शुक्ला समेत सैकड़ो किसानों ने हिस्सा लिया।

Share this news...