pranjal mishra kidnapp

पिता ने दो लाख फिरौती देकर बचाया अपने बेटे की जान

148

अमित तिवारी की रिपोर्ट-

जौनपुर। सराय ख्वाजा थाना क्षेत्र के सिद्दीकपुर बाजार से रविवार को अपहरण हुए बच्चे को परिजनों ने दो लाख फिरौती देकर छुड़ाया गया।हालांकि, पुलिस ने बच्चे को सुरक्षित निकालने पर अपनी प्राथमिकता दी।

सिद्दीकपुर बाजार से रविवार को ढाई बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने राहुल मिश्रा के 6 वर्षीय पुत्र प्रांजल मिश्रा का अपहरण कर फरार हो गए थे। जिसमें पुलिस अधिकारियों ने सीओ सदर के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच समेत पुलिस की कई टीमों तलाश में लगा दिया था। टीमें बच्चे की तलाश में जुटी थी।

सोमवार को सुबह राहुल मिश्रा के फोन पर अपहकर्ताओं ने फोन किया, कहा कि बच्चा जिंदा पाना चाहते हो, तो दो लाख रुपये लेकर दो घंटे में फुलपुर पहुंचो। धमकी पर राहुल मिश्रा का परिवार सहम उठा और उन्होंने तत्काल सहयोगियों से सलाह ली और जिसकी जानकारी पुलिस को भी दी। पुलिस ने बच्चे को बचाना पहली प्राथमिकता समझी।

परिवार के पुत्र मोह को देखते हुए पुलिस ने उन्हें पहले जाने की हरी झंडी दे दी। राहुल मिश्रा के साथ डॉ. चंद्रजीत यादव व प्रणय यादव पैसा लेकर फूलपुर में पहुंचे। उसके बाद लोकेशन फाफामऊ का दिया। वहां पहुंचने इलाहाबाद का लोकेशन दिया। उसके बाद एक पेट्रोल पंप पर बुलाया। वहां भी नहीं मिले। वहां पहुंचने पर पहलवान ढाबे पर बुलाया।

अंतिम लोकेशन देते हुए शांतिपूरम कालोनी में राहुल मिश्रा को अकेले बुलाया। जिनसे दो लाख वसूलने के बाद बच्चे को अपहरणकर्ताओं ने रिहा कर दिया। प्रांजल पाते ही परिवार खुशी से झूम उठा।

थानाध्यक्ष रमेश यादव ने कहां की परिवार की एक पुत्र को पाने की पीड़ा को देखते हुए बच्चों को बचाना पहली प्राथमिकता थी। अपहरणकर्ता बचेंगे नहीं। मामले का शीघ्र खुलासा होगा। हमारी टीम लोकेशन को फालो कर वहां काम कर रही है ।और अपराधियों के गले तक पहुंच चुके हैं।