ESIC hospital fire

नोएडा के ESIC अस्पताल में लगी भीषण आग, शिफ्ट किए गए सभी मरीज, डॉक्‍टर भी चपेट में आए

102

New Delhi: सेक्टर 24 स्थित कर्मचारी बीमा राज्य निगम अस्पताल में गुरुवार को करीब साढ़े नौ बजे शार्ट सर्किट से आग लग गई। आग अस्पताल के बेसमेंट में लगी है। जहां मरीजों के इस्तेमाल में लाई जाने वाली मेडिसन को रखा गया था। आग लगने की सूचना पर साढ़े नो बजी पहुंची दमकल की गाड़ियों ने करीब दो घन्टे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया है। लेकिन धुंआ अब भी भरा हुआ है। इसलिए सात मंजिला इमारत में लगे शीशो को धुंआ निकालने के लिए तोड़ दिया है।

जानकारी के मुताबिक आग बेसमेंट में रखी यूपीएस की बैटरियों में लगी। जिससे वहां मौजूद लोगों का दम घुटने लगा। लोगों ने मामले की सूचना अस्पताल प्रबंधन को दिया। अस्पताल की ओर आग लगने की सूचना दमकल विभाग को दी गई। मौके पर पहुंची दमकल ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया है। आग लगने के बाद करीब तीन सौ मरीजों को पैनल में शामिल मरीजों को निजी अस्पताल और सेक्टर 30 स्थित जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं । हादसे में किसी के अबतक हताहत होने की सूचना नहीं है।

अस्पताल में आग लगने के बाद फायर अलार्म और स्प्रिंकलर भी नही बजा। जिससे मरीजों को आग लगने की सूचना नहीं हो सकी। हालांकि प्रबंधन ने जब मरीजो को बाहर निकालना शुरू किया तो मरीजों को अचानक आग लगने की जानकारी हुई। जिससे अस्पताल में भगदड़ मच गई।

मरीजों को अस्पताल से निकालने के लिए प्रबंधन और दमकल कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। सूचना है कि वार्ड में फैले धुंए के कारण अस्पताल के निदेशक डॉ अनीश सिंघल भी घायल हो गए उन्हें। उन्हें भी निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराना पड़ा है।

वहीं सूचना पर पहुंचे ग़ाज़ियाबाद के मुख्य अग्निशमन अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि करीब 15 दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया है। हालांकि अस्पताल के फायर उपकरण खराब रहे जिससे आग बुझाने में दिक्कत हुई। अस्पताल की फायर एनओसी की भी जांच की जा रही है।