aazam khan

टिप्पणी को लेकर आजम खान के खिलाफ FIR दर्ज, बोले- अगर दोषी पाया गया, तो नहीं लडूंगा चुनाव

55

नई दिल्ली- इन दिनों लोकसभा चुनाव से पहले यूपी में सपा नेता आजम खान के बयानों को लेकर सियासत तेज हो गयी है. वहीं यह बयान  सीधे तौर पर भाजपा नेता जयाप्रदा को ही लेकर कहा जा रहा है.

आपको बताते चले कि सपा नेता आजम खान के इस बयान के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी आजम खान को नोटिस जारी कर दिया है. उन्होंने आजम खान के इस बयान को अपमानजनक और अनैतिक करार दिया है.

इस मामले को लेकर महिला आयोग के अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि हमने मामले में चुनाव आयोग को भी पत्र लिखकर कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है ताकि उन्हें सबक मिले. चुनाव के समय यह सब बंद होना चाहिए. महिला केवल उपभोग के लिए नहीं है. महिला वोटरों को इस तरह के बयान देने वालों के खिलाफ मतदान करना चाहिए.

वहीं इस मामले को लेकर सपा नेता आजम खान ने कहा कि ‘मैं रामपुर से 9 बार विधायक रह चुका हूं. उत्तरप्रदेश सरकार में मंत्री भी था. मैं जानता हूं कि क्या बोलना है. अगर कोई यह साबित कर दे कि मैंने किसी का नाम लेकर उसकी बेइज्जती की तो चुनाव से अपना नाम वापस ले लूंगा.’

वहीं इसके आलावा इस मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर लिखा कि ‘मुलायम भाई – आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के. आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा हैं. आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिये.’