BREAKING NEWS
Search
Robbery Gang

डकैती की योजना बनाते अंतरराज्यीय गिरोह के चार आरोपी गिरफ्तार

409
Share this news...
Rambihari pandey

रामबिहारी पांडेय

सीधी। जिले के कमर्जी थाना के मुर्दाडीह में डकैती सहित बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बनाते हुए 5 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया। पूछताछ की जा रहे हैं आरोपियों के पास से घातक औजार भी बरामद किए गए हैं।

उनके खिलाफ आर्म एक्ट सहित कई अपराध पंजीबद्ध किए गए। आरोपियों पर पकड़े जाने के पूर्व कई अपराध में शामिल होने का खुलासा शनिवार की दोपहर पुलिस अधीक्षक तरुण नायक ने सभागार में प्रेस वार्ता बुलाकर किया है।

पुलिस अधीक्षक ने मीडिया को बताया कि शुक्रवार की रात 10 बजे के आसपास सूचना मिली कि मुर्दाडीह गांव के निवासी धीरेंद्र सिंह के घर में अज्ञात बदमाशों ने डेरा जमा रखा है। यह बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए अपने साथ में असलहा लेकर आए हुए है। मिली सूचना पर पुलिस अधीक्षक ने तत्काल जिले के थानों चौकियों के प्रभारियों की चार टीम बनाकर आरोपियों को पकड़ने के लिए मुर्दा डे गांव रवाना किया।

जहां धीरेन्द्र सिंह के घर मे राहुल उर्फ अनुराग सिंह निवासी लेडियारी थाना खारी जिला प्रयागराज, सूरज हेला निवासी वार्ड नंबर 1 अम्बेडकर नगर कोरांव जिला प्रयागराज, सुमित द्विवेदी निवासी बडखरा थाना चुरहट जिला सीधी, सिकंदर मेहतर निवासी धोबिया टंकी थाना कोतवाली जिला रीवा मिले जो जामा तलाशी करने पर इनके पास से 3 अदद 315 बोर के कट्टे, 5 जिन्दा कारतूस एवं 32 बोर के 10 जिन्दा कारतूस, 315 बोर के 6 खाली खोखे, एवं 5 मोबाईल फोन तथा 1 मोटरसायकल टीव्हीएस अपाचे 180 सीसी जिसमे नंबर नही है एवं 1 सीडी डीलक्स जब्त किये गये हैं।

आरोपी गण अत्यंत ही खतरनाक किस्म के है तथा अंतर्राज्यीय गिरोह बनाकर लूटपाट एवं डकैती की हरकते कर समाज को भयाक्रांत करने की योजनाओं में लिप्त है। आरोपीगण द्वारा प्रयागराज, रीवा, सतना, सीधी तथा अन्य जिलो में भी कई अपराध घटित किये गये है। पुलिस की मानें तो आरोपी  धीरेन्द्र सिंह हत्या का आरोपी है तथा वर्तमान में जमानत पर है।

साथ ही आसपास क्षेत्र के खतरनांक बदमाशो के साथ तालमेल कर लूटपाट तथा डकैती के आरोपियों के साथ सांठगांठ रखता है और अपने घर में पनाह देता है तो आरोपी राहुल सिंह जो कि ग्राम लेडियारी प्रयागराज का रहने वाला है तथा इसके उपर 30 से ज्यादा अपराध पंजीबद्ध है तथा यह थाना खीरी जिला प्रयागराज का निगरानीशुदा बदमाश है तथा हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट, डकैती तथा कई सनसनीखेज अपराधो में शामिल होने का आरोपी हैं।

वहीं आरोपी सूरज हेला जो ग्राम कोरांव प्रयागराज का रहने वाला है, तथा इसके उपर 30 से ज्यादा गंभीर अपराध पंजीबद्ध है, तथा यह थाना कोरांव जिला प्रयागराज का निगरानीशुदा बदमाश है। साथ ही हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट, डकैती तथा कई सनसनीखेज अपराधो में शामिल रहा है तथा वर्तमान मे मिर्जापुर जिले में मारपीट व लूटपाट कर फरारी काटने व अन्य जधन्य घटना कारित करने के उद्देश्य से धीरेन्द्र सिंह के यहां इकट्ठा हुये थे।

आरोपी  सिकंदर मेहतर जो कि धोबिया टंकी थाना कोतवाली जिला रीवा का शातिर बदमाश है तथा हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट, डकैती तथा कई सनसनीखेज अपराधो में शामिल रहा है। अभी हाल मे ही बीच रीवा शहर में एक व्यक्ति को गोली मारकर जान से मारने का प्रयास कर फरार हुआ है तथा जिलाबदर भी है। रीवा जिले से हुआ है, इस पर 35 से ज्यादा गंभीर अपराध के प्रकरण रीवा जिले में दर्ज है तथा बहुत ही खतरनांक आरोपी है।

वहीं आरोपी सुमित द्विवेदी जो कि बडखरा चुरहट का रहने वाला है तथा लूटपाट चोरी का का शातिर बदमाश है तथा अन्य गैंगो के साथ मिलकर वारदात करता रहा है। पांचों आरोपियों के खिलाफ थाना कमर्जी में धारा 399, 402 भा.द.वि. एवं 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। तथा आरोपीगणो को गिरफ्तार कर अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की जा रही है।

बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में थे आरोपी:-

सीधी जिले में किसी बड़ी घटना को अजाम दिये जाने के फिराक में थे। लेकिन, पुलिस अधीक्षक तरूण नायक द्वारा लोकसभा चुनाव को देखते हुये चेकिंग की कई टीमें तथा गोपनीय सूचनाये इकट्ठा करने हेतु कई मुखबिर लगाये गये थे। जिसके कारण आरोपीगण के द्वारा किसी बड़े वारदात के अजाम दिये जाने के पहले ही सीधी पुलिस द्वारा धर दबोचा गया। अगर समय पूर्व इन आरोपीग को नहीं पकड़ा जाता तो निश्चय ही यह सीधी जिले में किसी बडी घटना को अजाम दे देते।

पुलिस अधीक्षक तरूण नायक, अति.पुलिस अधीक्षक सूर्यकान्त शर्मा एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस चुरहट लक्ष्मण अनुरागी के मार्गदर्शन में उपराक्त टीमों में सम्मिलित पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी द्वारा अत्यंत लगन एवं मेंहनत से कार्य करते हुये तथा सायबर सेल से प्रदीप मिश्रा एवं आनंद कुशवाहा द्वारा कुशल तकनीकी व व्यावसायिक दक्षता का इस्तेमाल कर पुलिस टीमो की मदद कर इस अन्तर्राज्यीय गिरोह के आरोपियों को पकड़ने में सफलता हासिल की गई है।

पुलिस ने हासिल किया जनता का भरोसा:-

पुलिस अधीक्षक द्वारा अपने सफल नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में पूर्व में भी सीधी पुलिस के जाबांज अफसरो की मदद से कई महत्वपूर्ण एवं संगीन घटनाओ का खुलासा अल्प समय में कर सीधी जिले में कानून व्यवस्था का राज स्थापित कर सीधी की जनता में पुलिस के प्रति विश्वास हासिल किया गया है।

पुरस्कृत होगी वारदात रोकने बाली टीम:-

पुलिस अधीक्षक तरूण नायक द्वारा कार्रवाई में सम्मिलित सभी पुलिस टीम के अधिकारियों तथा कर्मचारियों को इस अच्छे एवं सफलतापूर्वक कार्य के लिये इनाम देने की घोषणा की गई है।

पुलिस टीम में सम्मिलित थाना प्रभारी राम सिंह पटेल, सतीष द्विवेदी, भागवत पाण्डेंय, दीपक बघेल, आकाश सिंह राजपूत एवं कर्मचारीगण कमशः सउनि. एस.एल. वर्मा, वृजेन्द्र सिंह, राजमणि वर्मा, आर. अनिल सोनी, महेन्द्र मिश्रा, प्रभात सिह चंदेल, अमित सिंह, अनूप सिंह परिहार, शिवेन्द्र मिश्रा, आनंद पाण्डेय, जीतेन्द्र धाकड, सतीष तिवारी, अवधेश कुशवाहा, किशुनपाल सिंह, अभिषेक यादव म0आर0 सुप्रिया मिश्रा, आर0 चालक जोगिंदर सिंह, अजय सिंह, सैनिक विद्या विधान प्राइवेट चालक प्रदीप शर्मा।

Share this news...