BREAKING NEWS
Search
Kahkashan Perween

पूर्ण शराबबंदी ने महिलाओं को दिलाया सम्मान और अपराध मुक्त समाज: कहकशा परवीन

533
Moinul Haque

मोईनुल हक़ नदवी

बेगूसराय। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी कर एक बहुत बड़ा सम्मान हम सभी महिलाओं को देने का काम किया है। जिसके कारण आज हम सभी महिलाएं अपने घर के अंदर अमन चैन की जिंदगी जी रहे है।

ये बातें राज्यसभा की सांसद कहकशा परवीन ने जदयू के द्वारा बेगूसराय जिला के दिनकर कला भवन में आयोजित रविवार को एक जदयू पार्टी महिला समागम कार्यक्रम को दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन करने के बाद कही। उन्होंने कहा शराब बंदी होने से यह फायदा हुआ है कि समाज में जो बुराइयां का जड़ था वह खत्म किया।

शराबबंदी के बाद अब दूध एवं मिठाई की बिक्री बाजार में काभी बढ़ी है। शराब बंदी होने के कारण अब घर के मालिक जो पहले शराब पीने पर खर्च करते थे। अब उस पैसे को अपने बाल-बच्चों की शिक्षा के उपर खर्च कर रहे हैं। जिसके कारण समाज में एक अच्छा वातावरण का माहौल बना है।

हमारे बिहार के मुखिया नीतीश कुमार ने हम महिलाओं को 50% आरक्षण देकर उन्हें संबल बनाया। लड़कियों के शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने साइकिल और पोशाक योजनाओं को बिहार में लागू कर लड़कियों के शिक्षा को मजबूत बनाया। लड़कियों के अब घर में जन्म लेने के बाद से लेकर ग्रैजुएट तक की पढ़ाई करने तक अब बिहार सरकार उन्हें 54 हजार 100 रुपये की सहायता राशि देगी।

सांसद ने कहा महिलाओं की तरक्की से ही समाज की तरक्की हो सकती है। जब से हमारे नीतीश कुमार ने बिहार की सत्ता को संभाला है तब से उन्होंने अपनी पहचान बिहार का विकास दिन रात करके बनाया है। ऐसे बिहार में बहुत सारी पार्टियां हैं, जो अपने परिवार के लिए सिर्फ काम कर रही है।

लेकिन हमारे नेता अपने परिवार से अलग हटकर अपने पार्टी के लिए और बिहार की जनता के विकास के लिए काम कर रहे हैं। नीतीश कुमार ने हम महिलाओं को सामाजिक,आर्थिक, शैक्षणिक के अलावे राजनीतिक स्तर से जोड़कर सभी जाति व वर्ग की महिलाओं को मजबूत बनाया है। इसलिए हम सभी महिलाएं मिलकर ऐसे विकास पुरुष अपने मुख्यमंत्री को दोबारा बिहार का सीएम बनाने का काम करेंगे।

राज्यसभा की सांसद कहकशा परवीन ने बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि एक ऐसे भी सीएम इस बिहार में पहले बने जो अपने परिवार के लिए ही दिन रात काम किये। कहा, जब उन्होंने अपने दो पुत्रों को ठीक ढ़ंग से शिक्षा नहीं दे सके तो भला आप बताइए बिहार की जनता को वह क्या विकास कर सकते हैं।

इस महिला समागम जदयू सम्मेलन को अप्सरा मिश्रा, अनिता मिश्रा, साधना सदा, सीमा मंडल, नीलम वर्मा, रेखा, शकुंतला गुप्ता, मीरा कुमारी, सावित्री देवी, प्रेमलता देवी, गीता देवी, कलावती देवी, निर्मला देवी, शबनम देवी, लक्ष्मी देवी, वीणा देवी, मंजू, मुन्नी समेत दर्जनों महिलाओं ने सभा को संबोधित किया।

कार्यक्रम का अध्यक्षता  जिला अध्यक्ष भूमिपाल रायने किया संचालन महिला प्रकोष्ठ कीअध्यक्ष अस्मत खातून ने किया।  इस मौके पर पूर्व विधान पार्षद रुदल राय, जदयू के जिला प्रवक्ता अरुण महतों, नगर अध्यक्ष जितेंद्र कुमार जीबू, जदयू के जिला उपाध्यक्ष पंकज कुमार, मुकेश राय, राम विनय राय, अरविंद पटेल संतोष कुमा, किशौर त्यागी, मंटू जी, आनंदी महतो, गजानंद राय, ऐहतेसामुल हक समेत कई अन्य पार्टी के कार्यकर्ता भी सभा में उपस्थित थे।