suicide

बिहार में गुटखा बिक्री पर प्रतिबंध के बाद कर्ज में डूबे कारोबारी ने की खुदकुशी

534

गोपालगंज। बिहार में गुटखा बिक्री पर प्रतिबंध लगने के बाद कर्ज में डूबे झारखंड के गुटखा कारोबारी ने गोपालगंज में मंगलवार की रात खुदकुशी कर ली. नगर थाने के राजेंद्र नगर मोहल्ले में किराये के एक मकान में शव मिला. बुधवार की सुबह पुलिस ने शव को उसके कमरे से बरामद कर जांच शुरू कर दी. मृतक गुटखा कारोबारी का नाम पवन दत्ता बताया जा रहा है, जो झारखंड के जामताड़ा जिले के निवासी है. पुलिस को उसके कमरे से लाखों रुपये के गुटखा मिले हैं.

कर्ज लेकर शुरू किया था गुटखा का कारोबार…

परिजनों के मुताबिक पवन दत्ता गुटखा के बड़े कारोबारी हैं. लोगों से कर्ज लेकर गुटखा का कारोबार शुरू किया था. लाखों रुपये का माल खरीदकर स्टॉक करने के बाद अचानक गुटखा पर बिहार सरकार ने बैन लगा दिया. इसके बाद कर्ज देनेवाले महाजन पवन दत्ता के घर पहुंचने लगे और दिये गये रुपये को वापस मांगने लगे. इससे आहत होकर पवन दत्ता ने देर रात में घर में पंखा से पत्नी की साड़ी का फंदा बनाकर खुदकुशी कर ली.

पत्नी और बच्चों को दूसरे कमरे में किया बंद…

खुदकुशी की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने पत्नी और बच्चों को अलग-अलग कमरे में बंद पाया. मृतक कारोबारी की पत्नी ने बताया कि कुदकुशी करने से पहले रात में खाना साथ में ही खाया. सोने के बाद बाहर से कमरे को बंद कर दिया गया. रात के एक बजे खुदकुशी करने की सूचना मिली. इसके बाद पुलिस को दी गयी.

चार लोगों ने दिया था पार्टनरशिप का पैसा… 

नगर थाने की पुलिस ने जांच के दौरान प्रथम दृटया पाया कि मृतक कारोबारी ने चार लोगों से पैसा लिया था. गुटखा कारोबार के लिए पैसा देने वाले सभी लोग पार्टनरशिप में काम करते थे. अचानक गुटखा पर बैन लगने से पैसा लगानेवाले पार्टनर ने नाराजगी जतायी और पैसा वापस मांगना शुरू कर दिया. इससे तनाव में आकर कारोबारी ने खुदकुशी कर ली.

क्या कहती है पुलिस

नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार राय का कहना है कि सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. साथ ही दरवाजा तोड़कर कमरे से पत्नी को बाहर निकाला गया है. मृत व्यापारी की पत्नी कुछ बोल नहीं पा रही है. परिजनों को झारखंड से बुलाया गया है. परिजनों के आने के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया जायेगा और मामले में बयान दर्ज किया जायेगा. परिजनों की ओर से लिखित शिकायत मिलने के बाद ही मौत का खुलासा हो पायेगा.