BREAKING NEWS
Search
एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी

लॉक डाउन में सारथी बनी पुलिस, एक कॉल पर उपलब्ध होगा खाना

452
  • गोरखपुर जीआरपी ने शुरू की हेल्पलाइन नम्बर…

Priyesh Kumar "Prince"

प्रियेश कुमार “प्रिंस”

गोरखपुर। लॉकडाउन की वजह से हर कोई घर में रहने को मजबूर है। कई लोग दवा और भोजन की कमी से परेशान हैं। ऐसे में उनकी मदद के लिए जीआरपी ने हेल्प लाइन नंबर जारी किया है। फोन करते ही जीआरपी (राजकीय रेलवे पुलिस) के जवान जरूरतमंद के पास मदद के लिए पहुंचेंगे और निश्शुल्क दवा व खाना उपलब्ध कराएंगे।

एसपी रेलवे की देखरेख में बन रहा भोजन…

29 मार्च से जीआरपी कम्युनिटी किचन चला रही है। एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी की देखरेख में जीआरपी लाइन में प्रतिदिन 300 लोगों का भोजन बनता है। सीओ, जीआरपी थाना प्रभारी गोरखपुर, सड़क व फुटपॉथ पर रहने वाले परिवार, मजदूर और जरूरतमंदों को भोजन मुहैया कराते हैं। इस व्यवस्था को आगे बढ़ाते हुए एसपी रेलवे ने भोजन के साथ दवा भी जोड़ दिया है। जीआरपी के हेल्पलाइन नंबर 8299789105 पर फोन करने वाले जरूरतमंद के घर जीआरपी के सिपाही पहुंचकर भोजन के साथ निश्शुल्क दवा भी उपलब्ध कराएंगे।

सिपाही नोट करता है नाम व पता…

एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी का कहना है कि आम जनमानस कोरोना से लडऩे में प्रशासन का पूरा सहयोग करे। सभी लोग अपने घरों में बने रहें, लॉकडाउन का पालन करें। भोजन व दवा की जरूरत होने पर हेल्पलाइन नंबर पर फोन करें, तुरंत मदद मिलेगी। हेल्पलाइन नंबर पर आने वाली सूचना को नोट करने के लिए एसपी रेलवे ने सिपाही की ड्यूटी लगाई है। फोन करने वाले का नाम, पता नोट करके इसकी जानकारी सीओ और थाना प्रभारी को दी जाती है। फिर भोजन और दवा संबंधित तक पहुंचाई जाती है।

लॉकडाउन में सारथी बनी पुलिस…

लॉकडाउन का सख्ती से पालन करा रही पुलिस गरीबों का सहारा बनी है। समाजसेवियों की मदद से दिहाड़ी मजदूरों व फुटपॉथ पर रहने वाले आठ हजार लोगों को सुबह और शाम भोजन मुहैया करा रही है। थाना व चौकी प्रभारी के साथ ही जिले की क्राइम ब्रांच पूरी निष्ठा से इस काम में लगी है। एसएसपी खुद अपने कैंप कार्यालय में भोजन तैयार करवा रहे हैं। क्षेत्र के सभी थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में गरीबों तक राहत पहुंचाते नजर आ रहे हैं। रामगढ़ताल, महिला थाना और राजघाट थाना प्रभारी ने अपने इलाके में मजदूरों के लिए खाने की व्यवस्था की। एसएसपी की मीडिया सेल ने भी टीपीनगर, फलमंडी इलाके में रहने वाले जरूरतमंदों को भोजन कराया। वहीं पीआरवी (पुलिस रिस्पांस व्हीकल) भी लोगों तक राहत पहुंचा रही है। भोजन का पैकेट और राशन बांटने के साथ ही पुलिस लोगों को समझा रही हैं कि अपने घरों में रहें, सड़कों पर न घूमे। कोई जरूरत पड़े तो फोन करें, पुलिस तुरंत पहुंचेगी।