BREAKING NEWS
Search
Delhi assembly

सरकार किसी की भी बने, व्यापारी वर्ग के लिए अच्छे कार्य होंगे, तभी रोजगार बढ़ेगा

158

New Delhi: Delhi Assembly Election 2020: 2013 के विधानसभा चुनाव से पूर्व यह क्षेत्र भाजपा का अभेद्य किला माना जाता था। यहां भाजपा के जयभगवान अग्रवाल चार बार लगातार विधायक रहे, लेकिन 2013 के चुनाव में आप प्रत्याशी राजेश गर्ग ने परचम लहराया। हालांकि जब 2015 में विधानसभा चुनाव हुए तो भाजपा विजेंद्र गुप्ता ने आप को पटखनी दी थी।

प्रमुख इलाके

रोहिणी सेक्टर-सात, आठ, नौ, 13, 14, 15, 18, प्रशांत विहार, सूरज पार्क, रजापुर, नाहरपुर व रजा विहार आदि।

क्षेत्र की विशेषता

उत्तर-पश्चिम दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में आने वाली रोहिणी विधानसभा सीट दिल्ली के 70 सीटों में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती है। 2002 में गठित परिसीमन आयोग की सिफारिशों के बाद 2008 में इस इलाके को विधानसभा क्षेत्र घोषित किया गया। मेट्रो की रेड लाइन से जुड़ा यह इलाका पॉश कॉलोनियों में गिना जाता है। 1980 में डीडीए की ओर से इस इलाके में आलीशान कॉलोनियां बनाई गईं और लोगों को आवंटित किया गया। इस इलाके में कई नामी शॉपिंग सेंटर समेत बड़े बाजार भी हैं।

  • कुल मतदाता 181460
  • पुरुष मतदाता 94524
  • महिला मतदाता 86927
  • अन्य मतदाता 9

प्रमुख मुद्दे

  • सार्वजनिक शौचालयों की हालत खस्ता है, जिसमें गंदगी की भरमार है।
  • अतिक्रमण भी प्रमुख समस्याओं में से एक है। कई कॉलोनियों के लोग इससे जूझ रहे हैं।
  • पूरे क्षेत्र में पार्किंग की सबसे बड़ी दिक्कत, जो क्षेत्र का प्रमुख मुद्दा है। बाजार से लेकर कॉलोनियों तक पार्किंग की समस्या से लोगों को जूझना पड़ता है।
  • पॉश कालोनियों को छोड़कर दूसरे ग्रामीण क्षेत्रों में सीवर लाइन पुरानी होने के कारण जाम रहता है। इससे जलजमाव की स्थिति पैदा होती है। सामुदायिक भवन की
  • हालत भी संतोषजनक नहीं होने से क्षेत्रीय लोगों में असंतोष है।
  • कई वर्षों से पार्किंग की समस्या के समाधान के लिए कोई योजना नहीं बनाई गई है। पॉश कालोनियों में यह गंभीर समस्या है। इस कारण लोगों को सड़क पर
  • ही वाहन खड़े करने पड़ते हैं। इससे जाम की स्थिति बनी रहती है।
  • पानी की समस्या भी यहां काफी पुरानी है। हैदरपुर प्लांट से पानी की आपूर्ति की जाती है। कई इलाकों में पानी का दवाब कम होने के कारण लोगों को इसकी किल्लत से जूझना पड़ता है।

क्षेत्र के पार्षद

  • रोहिणी-एच आलोक शर्मा, भाजपा
  • रोहिणी-सी प्रीति अग्रवाल, भाजपा
  • रोहिणी-आइ रितु गोयल, भाजपा
  • रोहिणी-जी चित्रा अग्रवाल, भाजपा

जनता की राय

पिछले पांच वर्षों में रोहिणी में काफी विकास कार्य हुए हैं। पहले यहां सफाई व्यवस्था चरमराई हुई थी, अब इसमें सुधार है। सुरक्षा के लिहाज से कॉलोनियों की गलियों में गेट लगवाए गए हैं, यह सराहनीय कार्य है। कई स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगने से सुरक्षा- व्यवस्था बेहतर हुई है। पांच वर्षों में सरकार ने काफी कुछ काम किया है।

निशा तिवारी, रोहिणी सेक्टर-13

रोहिणी में शिक्षा को लेकर अच्छा काम हुआ है। पहले सेक्टर 11, 8 और अब सेक्टर-23 में दिल्ली सरकार की ओर से विद्यालय खोले गए हैं। दिल्ली परिवहन विभाग को इलाके में बसों की संख्या बढ़ानी चाहिए। रिठाला से सेक्टर-11 की तरफ मार्ग पर यात्रियों को बस के लिए घंटों इंतजार करना पड़ता है।

अंशुल, रोहिणी सेक्टर-1

रोहिणी में पिछले पांच वर्षों में काफी विकास कार्य हुए हैं जिनमें मुफ्त बिजली-पानी की सुविधा, चिकित्सा व शिक्षा के क्षेत्र में आधारभूत परिवर्तन, ढांचागत विकास कार्यों के अलावा विद्यालयों को बेहतर बनाने का कार्य हुआ है। विद्यालयों में बुनियादी सुविधाओं से लेकर शैक्षिक स्तर में भी सुधार हुए हैं। बुजुर्गों के लिए पेंशन और तीर्थ यात्रा की सुविधा से लोगों को लाभ मिला है।