BREAKING NEWS
Search
marriage

छह फेरे के बाद कर दिया उसने शादी से इंकार

707
Pankaj Pandey

पंकज पाण्डेय

अंबाला। परिजनों के साथ यहां शादी करने आई एक युवती ने विवाह पूर्व के अन्य रस्मों को निपटाते हुए उसने छह फेरे तो ले लिए पर सातवें फेरे लेने से साफ इंकार कर दिया। इतना ही नहीं उसने यह शादी नहीं करने की बात कहकर न केवल परिजनों को बल्कि उल्लास में डूबे नाचते-गाते बारातियों के होश उड़ा दिए।

घटना अंबाला छावनी क्षेत्र का है। यहां फिनिक्‍स क्‍लब में एक शादी समारोह चल रहा था। कालका की एक युवती की शादी अंबाला छावनी में हो रही थी। बैंड बाजों के साथ दूल्हे की बारात विवाह स्थल पर पहुंची। विवाह की रस्‍में शुरू हुई दुल्‍हन की बहनों व सहेलियों ने दूल्‍हे से रिबन काटने की रस्म अदा करवाई। पंडाल में बरातियों ने खाना खाया और रिश्तेदारों का मिलन हुआ। शादी समारोह में सब खुश थे, दूल्हे के दोस्त और बराती नाच रहे थे। बैंड बाजे बज रहे थे व आतिशबाजी से आसमान रौशन था।

कई सारी रस्मों के बाद शादी के फेरे शुरू हुए। छह फेरे हो गए थे कि अचानक दुल्‍हन ने न केवल फेरे लेने से इंकार कर दी बल्कि शादी करने से मना कर दिया। लोगों ने बहुत समझाया, लेकिन वह टस-से-मस नहीं हुई और दूल्‍हे को मायूस  होकर खाली हाथ लाैटना पड़ा। 

फेरे से मना करने और शादी से इंकार के बाद शादी के लाल जोड़े में सजी दुल्हन को उसकी बहन ने समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी। दुल्‍हन अपनी बहन से बोली कि तुमने तो खुद लव मैरिज कर ली और अब मुझे समझाने में लगी हो। परिजनों और रिश्‍तेदारों ने भी उसे बहुत समझाया, लेकिन उसकी किसी की एक न सुनी। इसके बाद दुल्हन वहां से अपने कमरे की तरफ दौड़ती हुई चली गईं।

इसके बाद खुलासा हुआ कि लड़की का किसी और के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा है। लड़की किसी और को चाहती थी और वह उससे ही शादी करना चाहती थी। परिजनों के दबाव में वह शादी करने को तैयार हो गई थी, लेकिन ऐन समय पर उसने एेसा कदम उठा लिया।

इसके बाद दूल्हे पक्ष के लिए शादी का कोई मतलब नहीं रह गया था। बराती एक दूसरे से कह रहे थे कि अगर शादी नहीं करनी थी तो फिर इतनी बदनामी कराने की भी क्या जरूरत थी। इन्कार ही करना था तो पहले कर दिया होता। हालांकि, अभी तक इस मामले में दूल्हा पक्ष द्वारा किसी प्रकार की कानूनी कार्रवाई की कोई सूचना नहीं मिली है।