BREAKING NEWS
Search
Phulera Dooj

03 मार्च से शुरू हो रहा है होलाष्टक, जानें कब है फुलेरा दूज, गणेश चतुर्थी व्रत एवं रामकृष्ण परमहंस जयंती

336

New Delhi: आज से फरवरी माह का अंतिम सप्ताह प्रारंभ हो गया है। हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष का प्रारंभ आज से हुआ है। आज फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा है। इस सप्ताह में फुलेरा दूज, गणेश चतुर्थी व्रत एवं रामकृष्ण परमहंस जयंती जैसे व्रत एवं त्योहार आने वाले हैं। रविवार से अंग्रेजी कैलेंडर का तीसरा माह मार्च भी प्रारंभ हो जाएगा, जिसके पहले सप्ताह में होलाष्टक आने वाला है। आइए जानते हैं कि इस सप्ताह में आने वाले व्रत एवं त्योहार किस तारीख एवं दिन को पड़ेंगे।

24 फरवरी: फाल्गुन मास शुक्ल पक्षारंभ।

फाल्गुन मास शुक्ल पक्ष 2020 : फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष का प्रारंभ आज से हो गया है। आज फाल्गुन शुक्ल प्रतिपदा है। फाल्गुन मास के शुक्ल में ही होली का त्योहार भी आता है।

25 फरवरी : स्वामी रामकृष्ण परमहंस जयंती। फूलेरा दूज।

फुलेरा दूज 2020: फुलेरा दूज से ही होली का प्रारंभ माना जाता है। इस पर्व को होली के प्रारंभ का प्रतीक माना जाता है। फूलों का त्योहार होने के कारण इसे फुलेरा दूज कहा जाता है। फुलेरा दूज के दिन भगवान श्रीकृष्ण और राधा जी की विधि विधान से पूजा अर्चना की जाती है। उन दोनों को अनेक प्रकार के फूल अर्पित किया जाता है, ताकि वे अपने भक्तों पर प्रसन्न हो जाएं। राधा-कृष्ण के ​मंदिरों को फूलों से सजाया जाता है। उनको अबीर-गुलाल अर्पित किया जाता है। फुलेरा दूज मुख्य रूप से मथुरा और वृंदावन क्षेत्र में अत्यधिक हर्षोल्लास से मनाया जाता है।

स्वामी रामकृष्ण परमहंस जयंती 2020: मां काली के भक्त एवं स्वामी विवेकानंद के गुरु स्वामी रामकृष्ण परमहंस का जन्म फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को हुआ था। इस बार यह तिथि 25 फरवरी 2020 दिन मंगलवार को है। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार, उनका जन्म 18 फरवरी 1836 को हुआ था। वे बंगाल के कामारपुर के रहने वाले थे। उनका निधन 16 अगस्त 1886 को कोलकाता में हुआ था।

27 फरवरी: वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी व्रत।

वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी व्रत: वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी का व्रत हर मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को होता है। फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 27 फरवरी को है, इस दिन वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी मनाई जाएगी। वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी के दिन उपवास के साथ विघ्नहर्ता श्री गणेश जी की विधि-विधान से आराधना की जाती है।

28 फरवरी : याज्ञवल्क्य जयंती।

याज्ञवल्क्य जयंती 2020: इस वर्ष ​महर्षि याज्ञवल्क्य की जयंती 28 फरवरी 2020 दिन शुक्रवार को है। महर्षि याज्ञवल्क्य को चारों वेदों ऋग्वेद, सामवेद, यजुर्वेद तथा अथर्ववेद का ज्ञाता माना जाता है। वे महान अध्यात्मवेत्ता, योगी, ज्ञानी, धर्मात्मा तथा श्रीराम कथा के प्रमुख वक्ता रहे हैं।

03 मार्च : श्री दुर्गाष्टमी व्रत। श्री अन्नपूर्णाष्टमी व्रत। होलाष्टकारंभ।

होलाष्टकारंभ 2020: इस वर्ष होलाष्टक का आरंभ 03 मार्च 2020 दिन मंगलवार से हो रहा है। यह 8 दिन चलता है। होलाष्टक का अर्थ है होली से 8 दिन पूर्व का समय। होलाष्टक का प्रारंभ फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि से होता है, जो होलिका दहन तक रहता है। इस समय काल यानी इन 8 दिनों में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। इन 8 दिनों में विवाह, नामकरण, विद्या प्रारंभ, गृह प्रवेश, भवन निर्माण, हवन, यज्ञ आदि नहीं किया जाता है।