BREAKING NEWS
Search
कुम्भ

कुम्भ नगरी में निषेधाज्ञा, खतरे की आशंका के चलते लिया निर्णय

504

लखनऊ। कुम्भ नगरी प्रयाग में अराजक तत्वों से खतरे की आशंका को भांपते हुए जिला प्रशासन ने निषेधाज्ञा लागू किया है। मेला अधिकारी विजय किरण आनंद ने रविवार को बताया कि मेला प्राधिकरण ने कुम्भ क्षेत्र में अराजक तत्वों से खतरे की बात कही है जिसके मद्देनजर एहतियात के तौर पर सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए गए हैं। पूरे मेला क्षेत्र में शनिवार से निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है।

इस दौरान कोई भी व्यक्ति, संस्था एवं संगठन बिना सक्षम अधिकारी के अनुमति के बिना मेला क्षेत्र में धरना प्रदर्शन नहीं कर सकेगा। कोई भी व्यक्ति लाठी, डंडा अथवा किसी प्रकार का घातक हथियार अपने साथ लेकर नहीं चल सकेगा। मेला क्षेत्र में ड्यूटी करने वाले पुलिस और ऐसे साधु महात्मा ही इसको धारण कर सकेगे जिनके द्वारा धार्मिक रूप से शस्त्र ग्रहण किया जाता है, उन्हे छूट रहेगी।

मंत्रियों संग सीएम योगी लगाएंगे डुबकी

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कुंभ में एक और रिकार्ड तैयार करने को तैयार है जब 29 जनवरी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में मंत्रिमंडल के सभी सदस्य पतित पाविनी गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती के पावन संगम में डुबकी लगाएंगे। राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह पुष्टि करते हुए कहा कि सीएम योगी की अध्यक्षता में लखनऊ से बाहर पहली बार प्रयागराज में मंत्रिमंडल की बैठक भी इसी रोज होगी जिसमें पूरी कैबिनेट और राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भी शिरकत करेंगे।