BREAKING NEWS
Search
America Airlines

अमेरिका की विमानन कंपनियों को हिदायत- पाकिस्तानी एयरस्पेस इस्तेमाल न करें, आतंकी हमले का खतरा

163

New Delhi: अमेरिका के उड्डयन विभाग- फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) ने अपनी विमानन कंपनियों और पायलटों को हिदायत दी है कि वे पाकिस्तानी एयरस्पेस का इस्तेमाल न करें। एफएए ने इसके लिए गुरुवार को एक नोटिस फॉर एयरमेन (नोटाम) जारी किया। इसके मुताबिक, पाकिस्तानी एयरस्पेस में कट्टरपंथी या आतंकी संगठन अमेरिकी फ्लाइट्स पर हमला कर सकते हैं। यह नोटाम सिर्फ अमेरिकी एयरलाइंस और उनके पायलटों पर लागू होगा।

अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक, अमेरिका के नागरिक उड्डयन, हवाई अड्डों और विमानों पर आतंकी हमले का खतरा बना हुआ है। नोटाम के मुताबिक, पाकिस्तान में कम ऊंचाई पर उड़ रहे विमानों के अलावा उड़ान के लिए तैयार या लैंडिंग कर रही फ्लाइट्स को सबसे ज्यादा खतरा है। खुफिया जानकारी के अनुसार, अभी तक इसके पुख्ता सबूत नहीं हैं कि पाकिस्तान में ‘मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिस्टम’ का इस्तेमाल उसकी फ्लाइट्स को निशाना बनाने के लिए किया गया है, लेकिन पाकिस्तान में कुछ आतंकी संगठनों की पहुंच ‘मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिस्टम’ तक हो गई है। संभव है कि आतंकी पाकिस्तानी एयरलाइंस को इसके जरिए निशाना बनाएं।

पाकिस्तान ने भारत के लिए बंद किया था एयरस्पेस

पाकिस्तान ने 26 फरवरी 2019 को बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद भारत के लिए अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था। इसके पांच महीने बाद उसने 16 जुलाई को इसे खोल दिया था। पाकिस्तान ने भारत को अक्टूबर 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपना एयरस्पेस इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दी थी। मोदी को कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए सउदी अरब जाना था।