BREAKING NEWS
Search
Commander abhinandan

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने अभिनंदन की रिहाई रोकने के लिए दाखिल याचिका को किया खारिज

321

नई दिल्ली। एक बड़ी खबर सामने आई है। विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई रोकने के लिए पाकिस्तान के एक नागरिक ने इस्लामाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की थी।

जिसके बाद अब ख़बरें यह सामने आई है कि इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने उस याचिका को खारिज कर दी है। आपको बताते चले कि एक नागरिक ने कोर्ट में एक याचिका दायर कर कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन ने देश के खिलाफ अपराध किया है और इसलिए उनके खिलाफ यहीं सुनवाई होनी चाहिए। जिसके बाद इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने उस याचिका को खारिज कर दी।

बता दें, बुधवार को हमले के बाद विंग कमांडर अभिनंदन पैराशूट से उतरकर वो धरती पर आये। उन्होंने वहां मौजूद लोगों से पूछा कि यह इलाका भारत का है या पाकिस्तान का? तब उन्हें यह समझ में आ गया कि वो गलती से पाकिस्तान की धरती में उतर गये हैं।

उन्होंने वहां मौजूद लोगों को हटाने के लिए हवाई फायरिंग की। उसके बाद वो लगभग आधा किलो मीटर भागे और तालाब में कूद गये। उनके तालाब में कूदने के उद्देश्य यह था कि किसी तरह वो अहम दस्तावेज को नष्‍ट करना चाहते थे।

वहीं वो जैसे ही दस्तावेज नष्‍ट करने के बाद वे तालाब से निकले तो वहां मौजूद लोगों ने उन्हें निशाना बनाया। मगर इस बीच पाक सेना के जवान गांव में पहुंच गये। सेना अभिनंदन को युवाओं के चंगुल से छुड़ाकर अपने साथ ले गये।

वहीं आज पाकिस्तानी आर्मी की ओर से बंदी बनाए गए भारतीय वायुसेना कमांडर अभिनंदन आज पाकिस्तान से भारत वापस लौटेंगे। अमेरिका समेत कई देशों के दवाब और भारत के कड़े रुख के बाद पाकिस्तान ने यह फैसला लिया।