BREAKING NEWS
Search
Lalu Prasad Yadav

जय जवान, जय किसान नहीं बल्कि “मर जवान, मर किसान”- लालू यादव

334

पटना। किसान आंदोलन को लेकर मोदी सरकार घेरे में आ चुकी है। मोदी सरकार के खिलाफ दिल्ली में चल रहे इस किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर हमला बोल रही है। दरअसल, किसानों पर हुए पुलिस कार्रवाई को लेकर एक तरफ जहां कांग्रेस ने मोदी सरकार को तानाशाह की सरकार बताया है, तो वहीं  दूसरी ओर राजद सुप्रीमो लालू यादव ने मोदी सरकार को अच्छे दिनों की छलावा करने वाली सरकार बताया।

राजद सुप्रीमो लालू यादव ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि “जय जवान, जय किसान का नारा देने वाले पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर अच्छे दिनों की छलावा सरकार ने उस नारे को “मर जवान, मर किसान” में तब्दील कर दिया।”

इसके आलावा लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने भी मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि “जुमलेबाजों के ज़ुल्मों से परेशान किसान ने लाठी उठा ली है। कोई बचा नहीं पाएगा। पूँजीपतियों के दलालों, अन्नदाताओं की माँगे पूरी करों अन्यथा सिंहासन ख़ाली करों। ये धरती पुत्र है तानाशाही को लाठी में लिपटा कर आसमान में फेंक देंगे और धरती में गाड़ देंगे।”

इतना ही नाहीं किसान आंदोलन को लेकर पूर्व डिप्टी CM तेजस्वी यादव ने मोदी सरकार पर एक के बाद एक ट्वीट कर जोरदार हमला बोला। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि “मोदी सरकार ने भी स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को कूड़े में फेंक किसानों की पीठ में छुरा घोंपा है। मोदी जी,माना किसान पूँजीपतियों की तरह आपकी जेबें नहीं भर सकते लेकिन कम से कम उनके सिर पर डंडे तो मत मरवाइए। अगर आपने ग़रीबी देखी होती तो किसानों पर इतने ज़ुल्म नहीं करते।”