BREAKING NEWS
Search
DM office

लोकायुक्त पुलिस टीम ने मारा छापा, रिश्वत लेते पकड़े गये कल्याण विभाग का बाबू

623
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। कलेक्टर कार्यालय प्रांगण में स्थित आदिम जाति कल्याण विभाग में लोकायुक्त ने दबिश दी हैं। आदिम जाति कल्याण विभाग में पदस्थ समित रायकवार बाबू को लोकायुक्त ने 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया हैं। समित रायकवार बाबू ने फरयादी मोहन प्रशाद कोरी से चालीस हजार रुपये की मांग की थी।

उज्जैन लोकायुक्त टीम के DSP वेदांत शर्मा ने मीडिया कर्मियों को जानकारी देते हुए बताया कि गुरुवार को देवास कलेक्टर कार्यालय प्रांगण में स्थित जिला आदिम जाति अनुसुचित जाति कल्याण विभाग में लोकायुक्त पुलिस ने फरियादी मोहनप्रसाद कौरी की शिकायत पर समित रैकवार को 10 हजार की रिश्वत में गिरफ्तार किया गया हैं।

फरयादी द्वारा लोकायुक्त को सूचना दी गई थी जिसमे सहायक ग्रेड 3 में पदस्थ आरोपी समित रायकवार द्वारा सतवास के ग्राम लोहरदा में निलंबित छत्रवस अधीक्षक मोहन कौरी की फ़ाइल आगे बढ़ाने के एवज में 40 हजार रुपये की मांग की गई थी। जिस पर फरियादी द्वारा 10 हजार रूपये पहले दे दिए गए थे तथा बचे हुए रूपये की बात पर उज्जैन लोकायुक्त ने फ़ोन ट्रैपिंग कार्रवाई गई थी।

जिसके आधार पर बची किश्त के लिए फरियादी द्वारा आज लोकयुक्त के साथ कार्यालय में देने की बात हुई थी जिस पर लोकायुक्त ने 500 रुपये के नोटो के साथ आरोपी रायकवार को धर दबोचा।

लोकायुक्त DSP शर्मा ने बताया कि फरियादी द्वारा 28 जुलाई में इसकी शिकायत की गई थी जिस पर पुलिस अधीक्षक द्वारा आवेदन की तस्दीक की गई जिस पर आवेदक की वॉइस टैपिंग की गई थी। जिसपर लिपिक को आज गुरुवार को आदिम जाति कल्याण विभाग में रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

ज्ञात हो कि कलेक्टर कार्यालय प्रांगण में लोकायुक्त की यह कोई पहली कार्रवाई नही हैं। इससे पहले भी यह कई कार्यवाही हो चुकी है ,जिसमे रजिस्टार कार्यालय SDM कार्यालय-ओर अब आदिम जाति कल्याण विभाग में लोकायुक्त की कार्रवाई हुई हैं।