pakistani urge in london due to kashmir

कश्मीर को लेकर पाक के लोगों का हिंसक प्रदर्शन, करीब 10 हजार पाकिस्तानियों ने भारतीय उच्चायोग को बनाया निशाना

215

लंदन. कश्मीर को लेकर एक बार फिर पाकिस्तानी मूल के नागरिकों ने लंदन में हिंसक प्रदर्शन किया। पूरे ब्रिटेन से करीब 10 हजार पाकिस्तानी मंगलवार को लंदन पहुंचे और भारतीय उच्चायोग को निशाना बनाया। प्रदर्शनकारियों ने उच्चायोग की इमारत पर अंडे, टमाटर, स्मोक बम और पत्थर फेंके, जिससे खिड़कियों नुकसान पहुंचा। लंदन में ऐसा दूसरी बार हुआ है। इससे पहले 15 अगस्त को उच्चायोग में स्वतंत्रता दिवस मना रहे भारतीयों पर हमला किया गया था।


भारतीय उच्चायोग ने प्रदर्शन का फोटो भी ट्वीट किया और लिखा- लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने दूसरी बार हिंसक प्रदर्शन किया गया।

इसके विरोध में भारतीय मूल के युवकों ने कोई प्रदर्शन नहीं किया। कुछ ब्रिटिश लेबर सांसदों के नेतृत्व में ‘कश्मीर फ्रीडम मार्च’ निकाला गया, जो पार्लियामेंट स्क्वेयर से उच्चायोग की इमारत तक गया। प्रदर्शनकारियों के हाथ में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के झंडे और बैनर थे। उनका कहना था कि कश्मीर में लॉकडाउन बंद करो, हम आजादी चाहते हैं।

लंदन के मेयर सादिक खान ने घटना की निंदा की

प्रदर्शन में पाकिस्तान मूल के ब्रिटिश नागरिक और पीओके के नागरिक थे। उनका कहना था कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के 30 दिनों के बाद भी कश्मीर में लॉकडाउन है। इसे खत्म किया जाना चाहिए। वहीं, पाकिस्तान मूल के लंदन के मेयर सादिक खान ने प्रदर्शन की निंदा की। उन्होंने ट्वीट किया- मैं इस तरह के अस्वीकार किए जाने वाले व्यवहार की निंदा करता हूं।

15 अगस्त को भी हिंसक प्रदर्शन किया गया था

15 अगस्त को भी इनलोगों ने खालिस्तानी और कश्मीरी झंडा लेकर उच्चायोग के सामने हिंसक प्रदर्शन किया था। साथ ही स्वतंत्रता दिवस मना रहे लोगों को निशाना बनाया था। प्रदर्शनकारियों ने उनपर अंडे, बोतल, जूते और अन्य चीजें फेंकी थी।