सपा-बसपा

अखिलेश-मायावती पहली बार दिखेंगे एक मंच पर, कुमार स्वामी के शपथग्रहण समारोह में होंगे शामिल

80

लखनऊ। प्रदेश में भाजपा के खिलाफ समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने एक-दूसरे से हाथ जरूर मिलाया है लेकिन, मायावती व अखिलेश अभी तक एक मंच पर साथ नहीं दिखे हैं। कर्नाटक में जद (एस) नेता कुमार स्वामी के नेतृत्व में गठित होने जा रही सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में दोनों एक साथ नजर आएंगे। मायावती और अखिलेश दोनों ने ही समारोह में जाने की पुष्टि कर दी है। मायावती के साथ बसपा महासचिव और राज्यसभा सदस्य सतीश मिश्र भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे।

बता दें कि बसपा के सहयोग से फूलपुर और गोरखपुर संसदीय क्षेत्रों के उपचुनाव में जीत हासिल करने के बाद अखिलेश यादव ने मायावती के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की थी, लेकिन किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम में दोनों साथ नहीं नजर आए हैं। यह पहला मौका होगा जब दोनों किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में साथ होंगे। सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश का कर्नाटक जाना तय है। वह 23 मई को आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेंगे।

दूसरी ओर बसपा जद (एस) से गठबंधन करके कर्नाटक में चुनाव लड़ी थी और उसका एक विधायक भी निर्वाचित हुआ है। इसलिए बसपा प्रमुख मायावती और पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्र का भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होना निश्चित है। बसपा के राज्य प्रभारी और राज्यसभा सदस्य अशोक सिद्धार्थ वहां पहले से ही मौजूद हैं। सपा-बसपा नेताओं के साथ ही वहां कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी भी होंगे। ऐसी स्थिति में लोकसभा चुनाव को केंद्र में रखते हुए वहां विपक्षी एकता की रणनीति को विस्तार मिलना भी संभव है।