BREAKING NEWS
Search
aazam khan

आज़म खान का मॉब लीचिंग पर दिया गया यह बयान फिर से पैदा कर सकता है बड़ा विवाद

423

तौज़ीहा यास्मीन की रिपोर्ट, 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के बहुचर्चित नेता अजाम खान फिर से सवालों के घेरे में फंसते दिखाई दे रहे हैं। इस बार मॉब लिंचिंग को लेकर उनका एक बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने मुसलमानों कि लगातार प्रताड़ित होने कि बात कही है। साथ ही यह भी कहा है कि नेहरु, गांधी जी और मौलाना आजाद जैसे महापुरुषों ने मुसलमानों से कई वादे किये थे इसलिए वो पाकिस्तान नहीं गए, लेकिन अब मुसलमानों के साथ जो भी होगा वो खुद उसका सामना कर लेंगे।

उनके मुसलमानों के पक्ष में दिए इस बयान पर कई तरह के सवाल उठाये जा रहे हैं। वैसे यह कोई पहला मामला नहीं है जब आज़म का कोई  बयान लोगों को नापसंद आया हो।

लोकसभा चुनाव के समय उन्होंने रामपुर के डिएम पर निशाना साधते हुए कहा था कि उससे चुनाव के बाद मायावती के जूते साफ करवाऊंगा। यही नहीं 2005 में आज़म खान पर 10 दिन में 23 मुकदमे दर्ज किए गये थे। साथ ही किसानों कि ज़मीन हथियाने के आरोप में उन्हें भू माफिया भी करार दिया गया था। जिसपर उन्होंने कहा था कि उन्होंने बाकायदा कानून के दायरे में रहते हुए पैसे दे कर ज़मीन खरीदी थी और बीजेपी उनपर झूठे आरोप लगा रही है।