Madhyapradesh beggar girl

लड़की का अपहरण और धंधा भीख मंगवाने का

85

सर्वेश त्यागी की रिपोर्ट,

ग्वालियर। एक युवक रात को लड़की का अपहरण कर ले गया और सोमवार अगली सुबह अचलेश्वर मंदिर में उसके साथ भीख मांगने पहुंच गया, इसी बीच परिजन भी तलाशते हुए वहां पहुंच गये। वह युवक तो पकड़ा गया, लेकिन उसके दो साथी फरार हो गये। अब पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

यह है पूरा मामला –
डबरा में शंकर शुक्ला रहते हैं। उनकी ससुराल ग्वालियर में प्रेम मोटर्स के पास है। शंकर के ससुर रामभजन चाय की दुकान चलाते हैं। उनकी 8 साल की लड़की मंदो अपने नाना के घर पर आई थी। रविवार की रात को मंदो अचानक नाना के घर से गायब हो गई। दिव्यांग मंदो को दिखाई भी नहीं देता है। पूरी रात परिजन मंदो को खोजते रहे।

सोमवार की सुबह जब नाना रामभजन अचलेश्वर मंदिर के पास निकले तो मंदो एक युवक के पास बैठी दिखाई दी। रामभजन ने मंदो को आवाज लगाई,  तो उसने नाना को देख लिया। यह देखकर युवक ने भागने की कोशिश की,  लेकिन वह भाग नहीं पाया। उसके साथ खड़े दो लोग भागने में सफल हो गए। इस बीच पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस उस युवक को थाने में पकड़कर ले आई, भीख मंगवाने के लिए ही मंदो का किडनैप किया था। पुलिस युवक से पूछताछ कर रही है।

झांसी रोड थाने के टीआई दीपक यादव ने बताया कि पकड़ा गया सोबरन सिंह अपने को  ड्रायवर बता रहा था सोबरन भिण्ड के फूप कस्बे का निवासी है। उससे पूछताछ की जा रही है। 

पुलिस को संदेह है कि सोबरन उस गैंग से जुड़ा हो सकता है जो बच्चों का अपहरण करके भीख मंगवाती है जो दो युवक फरार हुए हैं वह भी यही काम करते थे, इनकी भी तलाश की जा रही है।