BREAKING NEWS
Search
Shivraj chauhan

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार पर आज मंथन, मंत्री आर्य पर भी होगा निर्णय

353
Jalaj Tripathi

जलज त्रिपाठी

भोपाल। प्रदेश में संभावित मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर प्रदेश भाजपा में गुरुवार को मंथन होगा। भाजयुमो की कार्यशाला में हिस्सा लेने के लिए प्रदेश प्रवास पर आ रहे विनय सहस्त्रबुद्धे मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मुख्यमंत्री निवास पर शिवराज सिंह चौहान से चर्चा करेंगे। इस दौरान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार चौहान एवं प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत भी मौजूद रहेंगे। प्रदेश नेतृत्व इस दौरान मंत्री लाल सिंह के मसले भी चर्चा करेगा।

अभी तक मंत्री लाल सिंह आर्य को लेकर प्रदेश भाजपा पूरी तरह से समर्थन में है। लेकिन विपक्ष के बढ़ते दबाव और पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के लिए मंत्री की तलाश में की जा रही छापामार कार्रवाई को लेकर सत्ता और संगठन कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठ रहे हैं। यही कारण अभी तक लाल सिंह का खुलकर बचाव कर रहे भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार चौहान आज लाल सिंह मामले में बचते नजर आए।

उन्होंने प्रदेश भाजपा कार्यालय में मंत्री आर्य को लेकर कहा कि उन्हें नहीं पता कि मंत्री लाल सिंह आर्य कहां हैं। नंदकुमार के अनुसार मंत्री देश में ही होंगे। हालांकि नंदकुमार ने एक बार फिर कहा कि लाल सिंह के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता है। प्रदेश भाजपा सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान संभवत: अगले हफ्ते अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं।

संभावित मंत्रिमंडल कितने नए सदस्यों को शामिल किया जाएगा और मौजूदा मंत्रियों में से किसकी छुट्टी होगी यह अभी तय नहीं है। लेकिन संभावना जताई जा रही है मुख्यमंत्री 2 या 3 मंत्रियों को स्वास्थ्य व उम्र का हवाल देकर घर बैठा सकते हैं। लाल सिंह आर्य पर कोर्ट के फैसले के बाद पार्टी फैसला करेगी।

ये मंत्री हो सकते हैं बाहर…

मंत्रिमंडल के संभावित फेरबदल में मुख्यमंत्री क्षेत्रीय, जातिगत समीकरणों को देखते हुए विधायकों को मंत्री बनाएंगे। जिसमें अजजा और अजा वर्ग के विधायकों का भी खासा ध्यान रखा जाएगा। खबर है कि स्वास्थ्य कारणों से मंत्री कुसुम मेहदेले, गौरीशंगर शेजवार समेत 3 मंत्रियों को घर बैठाया जा सकता है। पिछले साल 30 जून 2016 को हुए मंत्रिमंडल विस्तार एवं फेरबदल में उम्र का हवाल देकर बाबूलाल गौर और सरताज सिंह को मंत्रिमंडल से बाहर किया जा चुका है।

दावेदार विधायक सक्रिय…

मुख्यमंत्री द्वारा मंत्रिमंडल विस्तार के संकेत देने के बाद दावेदार विधायक सक्रिय हो गए हैं। जिन विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जाना है, उनमें प्रहलाद भारती, गोपीलाल जाटव, यशपाल सिंह सिसौदिया, रमेश मैंदालो, यशपाल सिंह सिसौदिया, सुदर्शन गुप्ता, कैलाश चावला, ओमप्रकाश सकलेचा आदि के नाम दावेदारों में शामिल हैं।