BREAKING NEWS
Search
Arson

मंदसौर के बाद भोपाल जिले में भी किसान आंदोलन ने लिया उग्र रूप, चक्काजाम, तोड़फोड़, अगजनी

329
Shabab Khan

शबाब ख़ान

भोपाल: मंदसौर के बाद भोपाल जिले में भी किसान आंदोलन ने उग्र रूप ले लिया है। शुक्रवार को फंदा टोल नाके पर कांग्रेस ने जोरदार प्रदर्शन किया, जिसके बाद पुलिस ने उन्हे हिरासत में ले लिया।

कांग्रेसियों की गिरफ्तारी के कुछ समय बाद ही खेतों में छुपे किसान बाहर निकलकर पथराव करने लगे।

पुलिस को चकमा देकर आंदोलनकारियों ने कई बसों के कांच तोड़ दिए। एक खड़े ट्रक में आग लगा दी। पेट्रोल पंप को जलाने का प्रयास किया। पुलिस को हवाई फायर और लाठीचार्ज करना पड़ा। भोपाल-इंदौर हाईवे पर काफी समय तक ट्रेफिक डाइवर्ट रहा।

कांग्रेस ने किसानों के समर्थन में गुरुवार को टोल नाके पर प्रदर्शन का एेलान किया था, लेकिन देर रात को ही पुलिस ने जिला पंचायत उपाध्यक्ष रेखा राजपूत के पति राजू राजपूत सहित प्रदर्शन की रूपरेखा बनाने वाले दो दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया।

इसके विरोध में जिला कांग्रेस अध्यक्ष ग्रामीण अवनीश भार्गव एवं अनोखी मान सिंह पटेल की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए टोल नाके पर धरने पर बैठ गए। मुख्यमंत्री शिव राज सिंह चौहान एवं पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेसियों ने जोरदार प्रदर्शन किया। एसपी अरविंद सक्सेना की अगुवाई में यहां पहले ही भारी पुलिस बल तैनात था। पुलिस ने सभी को बसों में बिठाकर जेल भेज दिया।

यूं बिगड़े हालात, किया गया हवाई फायर

कांग्रेस नेताओं की गिरफ्तारी के बाद माहौल ठंडा हो गया था लग रहा था अब कुछ नहीं होगा लेकिन आंदोलनकारी किसानों ने पुलिस की रणनीति को नाकाम कर दिया।

एडीएम जीपी माली मीडिया को बाइट दे रहे थे कि अब हालात शांतिपूर्ण हैं उसी समय टोल नाके से पहले तूमड़ा जोड़ पर खेतों में छुपे उपद्रवी बाहर निकल और पुलिस पर पथराव करने लगे। यहां से गुजर रही बसों के कांच फोड़ दिए गए। पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ने का प्रयास किया लेकिन पथराव जारी रहा। बाद में पुलिस ने आंसू गैस के कई गोले छोड़े। हवाई फायर किए गए। फायरिंग के बाद भीड़ छंटती नजर आई।

चकमा देकर ट्रक में आग लगाई…

उपद्रवी किसानों ने पुलिस को दूसरी बार चकमा देने में कामयाब रहे। टोल नाके पर तैनात पुलिस बल जैसे ही तूमड़ा जोड़ पर पहुंचा उपद्रवियों ने मौके का फायदा उठाकर यहां इन्वर्टर एवं बैटरी से भरे लखनऊ के एक ट्रक में आग लगा दी। आग बुझाने आ रही दमकल के भी कांच फोड़ दिए गए। आग से ट्रक और उसमें रखी लाखों रूपए कीमत की बैटरियां धमाके के साथ जल गईं। आगजनी के बाद पुलिस ने खेतों में छुपे किसानों और उपद्रवियों को पकड़कर गिरफ्तार किया। हाईवे पर कई बार लाठीचार्ज करना पड़ा।

पेट्रोल पंप जलाने का प्रयास…

फंदा में खेतों में छुपे आंदोनकारियों ने एचपी पेट्रोल पंप रचना सेल्स एंड सर्विस में आग लगाने का प्रयास किया। संयोग से बैरागढ़ थाना प्रभारी सुधीर अरजरिया वहां खड़े थे। एक उपद्रवी को लाठियां मारते वे पकड़ लिए। भीड़ को रोकने के लिए पुलिस को हवाई फायर भी करना पड़ा। पेट्रोल पंप जलाने के प्रयास को देखते हुए बैरागढ़ नाके से सीहोर तक पेट्रोल पंपों पर पुलिस तैनात कर दी गई।

शाम को हालात काबू में आए। कलेक्टर निशांत बरवड़े एवं डीआईजी रमनसिंह सिकरवार ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। पुलिस ने दो दर्जन कांग्रेसियों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है जबकि आगजनी और पथराव करने वालों की सूची तैयार की जा रही है। फुटेज के आधार पर उनके खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

भोपाल सूत्र: अभिजीत

[email protected]