BREAKING NEWS
Search
ट्रेन

मंडुवाडीह-पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस को पीएम मोदी नें दिखाई हरी झंडी, देखिए क्या है खास इस ट्रेन में

473

डीज़ल इंजन से पॉवर मिलेगा, इसके कोच का इंटीरियर बेहद खूबसूरत है, प्लेन जैसी आरामदायक सीट एंव कलाकृतियां इसे खास बनाती हैं…

MD Asif

मो० आसिफ़ (वाराणासी संवाददाता)

 

 

 

 

 

 

वाराणसी: लंबे समय की मांग आखिर आज पूरी हो गई, यात्रियों की मांग को ध्यान नें रखते हुये आज मड़ुवाडीह (बनारस) और पटना के बीच हर रोज चलने वाली गाड़ी का शुभआरंभ हो गया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज एक दिवसीय यात्रा पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में थे, अपने संसदीय क्षेत्र के लिए प्रधानमंत्री नें 774.59 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी है। इन्‍हीं में से एक है मंडुआडीह – पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस। प्रधानमंत्री नें आज इस ट्रेन का उद्घाटन मंडुआडीह स्‍टेशन पर पहुंच कर किया। प्रधानमंत्री ने मंडुआडीह-पटना एक्‍सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

Watch Video

मंडुआडीह रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर दुल्हन की तरह सजकर खड़ी मंडुआडीह पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस को जैसे ही प्रधानमंत्री ने हरी झंडी दिखाई, मुख्य लोको पायलट मोहम्मद मजहर अब्बास ने अपने सहयोगी अखिलेश कुमार त्रिपाठी के साथ ट्रेन को गति दे दी।

मंडुआडीह पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन यहां से रोजाना चलेगी। यह ट्रेन मंडुआडीह से सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर रोज़ाना रवाना होगी और 4 घंटा 31 मिनट की यात्रा कर 10 बजकर 35 मिनट में पटना पहुंच जाएगी। उसी दिन शाम में पटना से चलकर ये रात में वापस मंडुआडीह पहुंच जाएगी।

इस ट्रेन में कई खूबियां हैं। महामना एक्सप्रेस जो की वाराणसी से दिल्ली के बीच चलती है के तर्ज पर इसमें तस्वीरों के माध्यम से भारत की संस्कृति के दर्शन कराये जायेंगे। इसमें मेघालय के खासी नृत्य से लेकर राजस्थान की पारम्परिक कलाकृतियों को जगह दी गयी है।ट्रेन में महामना एक्सप्रेस की ही तरह बायो टायलेट की व्यवस्था की गयी है। इससे पटरियों पर मल मूत्र नहीं गिरेगा। इसके अलावा सभी बोगियों में डस्टबिन और अग्निशमन यंत्र की व्यवस्था की गयी है।

मंडुआडीह पटना इंटरसिटी के सभी 11 चेयरकार स्लीपर कोच, एक ऐसी चेयरकार कोच पुराने डिब्बों की मरम्मत कर बनाये गए हैं। ये सभी डिब्बे भोपाल स्थित सवारी डिब्बा पुननिर्माण कारखाने में निर्मित है।