Bride And Groom

दुल्हन की स्टोरी जानकर दूल्हे ने उठा दिया ऐसा कदम, बेहोश हो गया बाप!

478
मध्यप्रदेश। प्रदेश के सीहोर जिला अचानक मीडिया की सुर्खियों में आ गया जब एक दूल्हा बिना अपनी दुल्हन को लिए वापस लौट गया। दरअसल यह दूल्हा अपनी मर्जी से नहीं लौटा बल्कि उसने ये कदम सोच समझ कर उठाया।

सीहोर जिले के बड़नगर गांव में चारों तरफ खुर्शियों का माहौल था। घर में मेंहदी, गीत-संगीत, मेहमान और ग्रामवासी सभी खुश थे कि अचानक चारों तरफ फैली खुशियां धीरे-धीरे उदासी में बदलने लगी। घर वाले बस बारात की राह ताक रहे थे। लेकिन दूल्हेराजा गांव में बारात लेकर नहीं पहुंचे। यहां पहुंचने से पहले ही वो अपने घर वापस लौट गए। 

जिसका कारण यह था कि जिस लड़की से दूल्हा शादी करने वाला था। उस दुल्हन की उम्र 18 साल से कम है यानि लड़की नाबालिग है। गौर करने वाली बात यह है कि लड़की के पिता खुद एक शिक्षक हैं। जैसे ही इस बात का पता कोतवाली पहुंची तो एसआई विनीता विश्वकर्मा, शैलेन्द्र कर्नाटक और महिला सशक्तीकरण विभाग के सुरेश पांचाल की टीम भी शादी समारोह में पहुंच गई। वहीं विवाह समारोह में आए मेहमान उन्हें देखकर चौंक गए।

महिला सशक्तीकरण विभाग के मुताबिक लड़की अभी बालिग नहीं है। उसके दसवीं की मार्कशीट के आधार पर आयु की जांच की गई तो उसके आयु 17 वर्ष छह माह पाई गई। जबकि विवाह की कम से कम 18 होनी चाहिए। इसलिए रायसेन के आमलखेड़ा गांव से आने वाली दूल्हे की बारात बिना दुल्हनिया लिए ही लौट गई। जिसके बाद महिला सशक्तीकरण विभाग ने सभी को समझाया की बेटी का विवाह 18 साल बाद ही करें।