sarad pawar got slapped by a protester

NCP चीफ शरद पवार को दिल्ली में थप्पड़ मारने वाला आरोपित 8 साल बाद गिरफ्तार

113

New Delhi: दिल्ली पुलिस ने एक भगोड़ा घोषित अपराधी को नई दिल्ली के मंदिर मार्ग थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित ने वर्ष 2011 में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता शरद पवार को थप्पड़ मारा था। इसके अलावा आरोपित एक पुलिसकर्मी के साथ मारपीट के मामले में भी शामिल रहा है। आरोपित की पहचान दिल्ली के स्वरूप नगर के रहने वाले अरविंदर सिंह उर्फ हरविंदर सिंह के रूप में हुई है। उसके खिलाफ कनॉट प्लेस थाने और संसद मार्ग थाने में दो मामले दर्ज हैं। दोनों मामलों में उसे भगोड़ा घोषित किया गया था।

डीसीपी ईश सिंघल ने बताया कि आरोपित अरविंदर सिंह ने 24 नवंबर 2011 को कनॉट प्लेस स्थित एनडीएमसी के कन्वेंशन हॉल में तत्कालीन कृषि मंत्री शरद पवार पर हमला किया था। अारोपित ने उन्हें थप्पड़ भी मारा था। उस समय कनॉट प्लेस थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया था। अरविंदर सिंह को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था।

हालांकि वह मामले की सुनवाई के दौरान गायब हो गया था। 29 मार्च 2014 को पटियाला हाउस कोर्ट द्वारा उसे भगोड़ा घोषित किया था। आरोपित पर दूसरा मामला पुलिस कांस्टेबल के साथ मारपीट करने का है। 2012 में अरविंदर सिंह ने जंतर-मंतर पर ड्यूटी कर रहे पुलिस कांस्टेबल के साथ मारपीट की थी। उस समय संसद मार्ग थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया गया था।

इस मामले में भी वह मुकदमे की सुनवाई के दौरान गायब हो गया। इस मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने उसे भगोड़ा घोषित किया था। डीसीपी ने बताया कि एसीपी अखिलेश्वर स्वरूप यादव के निर्देशन में मंदिर मार्ग थाने के एसएचओ विक्रमजीत सिंह के नेतृत्व में भगोड़ा घोषित बदमाशों को पकड़ने के लिए टीम का गठन किया। आरोपित अरविंदर सिंह के मूल पते पर कई बार छापेमारी की, लेकिन वह नहीं मिला। 11 नवंबर को टीम को अरविंदर सिंह के नए पते के बारे में सूचना मिली। सूचना के आधार पर टीम ने उसे दबोच लिया। सत्यापन के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।