मौदहा रहमानिया कालेज एमडीएम घोटाला, सभासद ने प्रधानाचार्या के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की उठाई मांग

382

हाईकोर्ट ने माना कॉलेज में नही है कोई प्रबंध समिति, डीआईओएस को दिया कॉलेज का अधिकार…

–रिज़वान उद्दीन

हमीरपुर: जिले के मौदहा कस्बा स्थित रहमानिया इण्टर कालेज बीते कई वर्षों से अपनी भ्रष्टाचारी छवि को लेकर चर्चा का विषय बना हुआ है। बीते वर्ष नवंबर में  सभासद मोतीलाल ने जिलाधिकारी से शिकायत कर एमडीएम में घोटाले की जांच करवानें मांग की थी जिसके बाद रहमानिया इंटर कालेज में भ्रष्टाचार की जांच करने के लिये उपजिलाधिकारी और उनकी टीम ने कॉलेज में औचक छापा मारा था।

प्रशासनिक अधिकारियों के अचानक छापेमारी से कालेज के स्टॉफ़ में हड़कंप मच गया और स्टॉक रूम में ताला डाल कर सभी फरार हो गए थे। जिसके बाद जिला विद्यालय निरीक्षक ने एमडीएम स्टॉक रूम में अपना ताला डालकर स्टॉक रूम को सीज कर दिया और दूसरे दिन एसडीएम नें भारी पुलिस बल के साथ पहुँचकर स्टॉक रूम का ताला तोड़वाया। जहाँ कालेज के एमडीएम स्टॉक रूम में स्टॉक से अधिक कुन्तलों खाद्य सामग्री पाई गई थी। इस घोटाले की मौदहा एसडीएम ने पूरी रिपोर्ट बनाकर जिलाधिकारी को भेजी थी जिसके बाद डीएम के आदेश पर जिला विद्यायल निरीक्षक ने कॉलेज की प्रधानचार्या राजिया सुल्तान के खिलाफ छोटी मोटी विभागीय कार्यवाही कर दो इंक्रीमेंट काट दिए थे।

शिकायतकर्ता सभासद के अनुसार अपने ऊपर हुई कार्यवाही से नाराज कॉलेज की प्रधानाचार्य राजिया सुल्तान ने हाईकोर्ट में रिट दाखिल कर डीआईओएस की कार्यवाही पर सवाल उठाते हुए अपने ऊपर की गई कार्यवाही का हक कॉलेज की प्रबंध समिति को बताया था, जिस पर बीते माह इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हमीरपुर डीआईओएस के काउंटर पर रहमानिया इंटर कालेज की प्रधानचार्या राजिया सुल्तान द्वारा दायर स्टे को रद्द करते हुए ऑर्डर दिया कि रहमानिया कॉलेज की प्रबंध समिति में आपसी विवाद के चलते एकल संचालन का अधिकार जिला विद्यालय निरीक्षक को है। सभासद मोतीलाल ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेज रहमानिया इंटर कालेज की प्रधानचार्या के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर निलंबित करने की मांग की है।