BREAKING NEWS
Search
more chances that microsoft can buy tiktok

माइक्रोसॉफ्ट खरीद सकती है इस चीनी ऐप का ग्लोबल बिजनेस, लेकिन 15 सितंबर से पहले डील करनी होगी

243

New Delhi: चीन के पॉपुलर शॉर्ट वीडियो ऐप टिकटॉक की भारत में फिर से एंट्री हो सकती है। इसका कारण यह है कि अमेरिका की दिग्गज सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक का ग्लोबल बिजनेस खरीदने पर विचार कर रही है। इसमें भारत और यूरोप का कारोबार भी शामिल हो सकता है। इस मामले से वाकिफ सूत्रों के हवाले से फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

माइक्रोसॉफ्ट की बाइटडांस से बातचीत चल रही है

टिकटॉक का कारोबार खरीदने को लेकर माइक्रोसॉफ्ट की इसकी पैरेंट कंपनी बाइटडांस से बातचीत चल रही है। हालांकि, इस मामले से वाकिफ एक सूत्र के हवाले से रॉयटर्स का कहना है कि माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक का पूरा कारोबार खरीदने का प्रस्ताव नहीं दिया है। रॉयटर्स के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक का नॉर्थ अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड का कारोबार खरीदने को लेकर मोलभाव कर रहा है।

हालांकि, अभी तक इस सौदे की कीमत का खुलासा नहीं हो पाया है। बाइटडांस के एग्जीक्यूटिव टिकटॉक की वैल्यू 50 अरब डॉलर से ज्यादा आंक चुके हैं।

अमेरिका ने टिकटॉक पर लगाया बैन

भारत के बाद अमेरिका ने भी चाइनीज ऐप टिकटॉक को बैन कर दिया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस पर बैन के ऑर्डर पर गुरुवार को साइन कर दिए। इसके मुताबिक 45 दिन बाद रोक लागू हो जाएगी। टिकटॉक के साथ ही चाइनीज ऐप वीचैट को भी बैन किया गया है।

ट्रम्प ने कहा है कि चाइनीज ऐप राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था के लिए खतरा बने हुए हैं। इस वक्त खासतौर से टिकटॉक पर कार्रवाई को लेकर आदेश जारी किया गया है। टिकटॉक ऑटोमैटिकली यूजर की जानकारी हासिल कर लेता है।

15 सितंबर से पहले करना होगा सौदा

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने राष्ट्रपति ट्रम्प से मिलकर टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को खरीदने को लेकर चल रही बातचीत की जानकारी दी है। माइक्रोसॉफ्ट और बाइटडांस को टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को लेकर 15 सितंबर से पहले यह सौदा करना होगा। यदि दोनों कंपनियां 15 सितंबर तक कोई भी सौदा करने में नाकाम रहती हैं तो इसके बाद टिकटॉक को अमेरिका में बैन कर दिया जाएगा।

हालांकि, माइक्रोसॉफ्ट ने साफ-साफ नहीं बताया गया है कि डील होगी तो वह यूजर के डेटा की सेफ्टी के लिए क्या करेगी? टिकटॉक के अमेरिका में करीब 30 मिलियन एक्टिव यूजर हैं। इस साल अमेरिका में टिकटॉक की जॉब ग्रोथ तीन गुना रही है। जनवरी में 500 के मुकाबले अब अमेरिका में टिकटॉक के 1400 कर्मचारी हो गए हैं।

भारत ने अब तक 106 चाइनीज ऐप बैन किए

अमेरिका से पहले भारत भी चाइनीज ऐप के खिलाफ डिजिटल स्ट्राइक कर चुका है। लद्दाख की गलवान घाटी में सीमा विवाद के बाद भारत ने जून के आखिर में टिकटॉक समेत 59 चाइनीज ऐप बैन कर दिए थे। इसके बाद दूसरे फेज में चीन के 47 और ऐप्स पर रोक लगा दी थी। दूसरे फेस में बैन किए गए ज्यादातर ऐप पहले से बैन ऐप के क्लोन थे।