Arrested

पुलिस से बचने के लिए हर माह घर और मोबाइल नंबर बदलने वाला लुटेरा हुआ गिरफ्तार

216

New Delhi: अपराधी क्राइम करने के बाद अक्‍सर भाग जाते हैं या फिर जगह बदल कर छुप जाते हैं। एक ऐसा अपराधी हाल में ही गिरफ्तार  हुआ है जो हर 30 दिनों में घर बदल कर पुलिस को चकमा दे देता था और पुलिस के सीडीआर से बचने के लिए हर 15 दिनों में मोबाइल नंबर भी बदल देता था। लेकिन, कहते हैं ना कि कानून के हाथ बहुत लंबे हैं जो अपराधियों को देर से ही सही मगर पकड़ जरूर लेते हैं।

संगम विहार से पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए हर माह घर व 15 दिन के अंतराल के बाद मोबाइल नंबर बदलने वाले कुख्यात लुटेरे को शनिवार रात संगम विहार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसके कब्जे व निशानदेही पर एक चोरी की स्कूटी व लूटे गए सात मोबाइल बरामद किए गए हैं। पुलिस उससे अन्य वारदात के बारे में पूछताछ कर रही है।

गश्‍त के दौरान चेकिंग में रोकने पर किया भागने की कोशिश

डीसीपी दक्षिणी अतुल कुमार ने बताया कि शनिवार रात संगम विहार थाने में तैनात हेड कांस्टेबल पंकज अन्य पुलिसकर्मियों के साथ गश्त कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने एक युवक को आते हुए देखा। उसे चेकिंग के लिए रोका तो उसने रुकने के बजाय स्कूटी तेज गति में दौड़ा दी। इसके पीछे पुलिस भी बाइक दौड़ा दी। कुछ दूर आगे जाते पुलिसकर्मियों ने एमबी रोड पर उसे दबोच लिया।

निकला कुख्‍यात वाहन चोर और लुटेरा

आरोपित की शिनाख्त संगम विहार में रहने वाले इमरान के रूप में हुई। वह कुख्यात वाहन चोर व लुटेरा है। उसके कब्जे से चोरी की स्कूटी व लूटे गए कई मोबाइल बरामद हुए हैं। उसने दिल्ली के विभिन्न इलाकों में वारदात को अंजाम दे चुका है। पुलिस पूछताछ में आरोपित ने 20 से ज्यादा आपराधिक मामलों में शामिल होने की बात कबूली है। उसने बताया कि पुलिस से बचने के लिए ही वह मकान व मोबाइल नंबर बदलता रहता था। इसी कारण पुलिस उसे काफी समय से पकड़ नहीं पा रही थी।