BREAKING NEWS
Search
cyber crime

NIA सहित 10 एजेंसियों को जासूसी करने के लिए मोदी सरकार ने दी मंजूरी, ओवैसी बोले- घर-घर मोदी

215

नई दिल्ली। एक बड़ी खबर सामने आई है। गृह मंत्रालय ने अहम कदम उठाते हुए एक बड़ा फैसला जारी किया है। दरअसल, गृह मंत्रालय ने गुरुवार को 10 केन्द्रीय एजेंसियों को देश में चल रहे किसी भी कंप्यूटर में सेंधमारी कर जासूसी करने की इजाजत दे दी है।

आपको बताते चले गृह मंत्रालय के आदेश के अनुसार अब इन एजेंसियां अब देश किसी भी व्यक्ति के कंप्यूटर में जेनरेट, ट्रांसमिट, रिसीव और स्टोर किए गए किसी दस्तावेज देख सकते है।

इस मामले को लेकर गृह मंत्रालय ने इंटेलिजेंस ब्यूरो, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, प्रवर्तन निदेशालय, सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स, डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस, सीबीआई, एनआईए, कैबिनेट सेक्रेटेरिएट (रॉ), डायरेक्टरेट ऑफ सिग्नल इंटेलिजेंस और दिल्ली के कमिश्नर ऑफ पुलिस को देश में चलने वाले सभी कंप्यूटर की जासूसी की मंजूरी दे दी है।

वहीं गृह मंत्रालय  के इस फैसले को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने इसकी आलोचना की है। उन्होंने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि ‘घर-घर मोदी।

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि  मोदी ने हमारी राष्ट्रीय एजेंसियों को हमारे संचार पर छेड़छाड़ करने की अनुमति देने के लिए एक सरल सरकारी आदेश का उपयोग किया है।

साथ ही उन्होंने कहा कि कौन जानता था कि जब उन्होंने ‘घर घर मोदी’ कहा था तो उनका यही मतलब था। जॉर्ज ऑरवेल का बिग ब्रदर यहां है और 1984 में आपका स्वागत है।