collapse building

शहर में चलेगा बाहुबलियों के अवैध कब्जे पर पुलिस का बुल़डोजर

126
Rajkumar jayaswal

राज कुमार जायसवाल

भोपाल। इंदौर में गुंडो के मकान तोड़ने के बाद अब पुलिस भोपाल के गुंडो के भी मकान तोड़ने जा रही है। भोपाल पुलिस अब छेड़छाड़ और ज्यादती करने वाले बदमाशों के अवैध कब्जों तोड़ने जा रही है।

इसके लिए पुलिस अफसरों ने नगर निगम को पत्र लिखकर इजाजत मांगी है। भोपाल में करीब 340  गुंडे है, जिसमे से पुलिस ने करीब एक दर्जन से ज्यादा गुंडो की लिस्ट बनाई है, जिनके पास अवैध संपत्ति है। इस खबर के बाद से ही गुंडो मे हलचल मची हुई है।

बता दे कि इससे पहले पुलिस और नगरनिगम मिलकर कुख्तात गुंडे मौलान आजाद के मकान पर कार्रवाई कर चुकी है।इस तरह की कार्रवाई कही ना कही गुंडो की रीढ़ की हड्डी तोडने में सहाय होगी।

दरअसल, इस संबंध में पुलिस अफसरों ने नगर निगम के साथ बैठक की है। इस बैठक में कमिश्नर अजात शत्रु श्रीवास्तव, आईजी जयदीप प्रसाद, डीआईजी धमेन्द्र चौधरी और कई नगर निगम के अफसरों के बीच चर्चा की गई। जिसमें यह फैसला लिया गया कि जिन भी गुंडो ने राजधानी में अवैध कब्जे बना रखे है, उन्हें हटाया जाएगा।

इसमें जिला प्रशासन और नगर निगम पुलिस की मदद करेगा।इस कार्रवाई में उन गुंडो को खासकर के शामिल किया जाएगा जो महिला संबंधी अपराधों में दोषी है। उनके अवैध कब्जों को तोड़कर राजधानी में सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा।जैसे ही नगर निगम से इसकी मंजूरी मिल जाएगी वैसे ही अतिक्रमण का काम शुरु कर दिया जाएगा और गुंडो के मकानों को जमीनदोज कर दिया जाएगा।इस कार्रवाई में गुंडो के मकानों के साथ दुकानों को भी तोड़ा जाएगा।

बता दे कि राजधानी में गुंडों के अधिकतर निर्माण सरकारी जमीन पर है। बदमाशों ने खुद के मकान तो अवैध बनाए ही, दुकानें बनाकर उन्हें किराए पर देकर आय के स्थायी स्रोत भी खड़े कर लिए हैं।

मकान व दुकानें तोडऩे से वे आर्थिक रूप से कमजोर होंगे। इससे सरकार की करोड़ों एकड़ जमीन मुक्त होगी।