BREAKING NEWS
Search
viral

मेरा बाप पुलिस में है, अपनी बहन को मेरे पास भेज वरना…

529
Share this news...
Sarvesh Tyagi

सर्वेश त्यागी

भोपाल। मेरे पिता पुलिस में हैं, तुम अपनी बहन को मेरे पास भेज दो, नहीं तो मैं तेजाब फेंककर उसे बर्बाद कर दूंगा।

यह मैसेज एक युवक को मिला जिसकी बहन पीएससी की तैयारी कर रही है। युवती ने बताया कि आरोपी उसी के साथ पढ़ता था। जब से उसका प्रपोजल ठुकराया है तभी से वो परेशान कर रहा है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। भोपाल में ये सबकुछ उस समय हो रहा है जबकि पुलिस हर रोज मनचलों के जूलूस निकाल रही है। इससे पहले एक छात्रा ऐसी ही छेड़छाड़ से तंग आकर आत्महत्या कर चुकी है। 

बागसेवनिया निवासी 26 वर्षीय युवती के पिता भी एएसआई हैं। वर्ष 2014 में इंजीनियरिंग करने के बाद युवती पीएससी की तैयारी कर रही है। उसके पिता ने शुक्रवार को बागसेवनिया थाने में प्रदीप पिता हरिसिंह कुशवाहा पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया। उन्होंने बताया कि प्रदीप ने उनकी बेटी के साथ इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है, जिससे उनके बीच जान-पहचान हो गई। डिग्री पूरी होने के बाद बेटी के साथ पीएससी की तैयारी करने लगा।

उसने इस बीच बेटी को शादी के लिए प्रपोज किया, तो बेटी ने मना कर दिया। आरोपी ने 31 अगस्त 2017 से फोन पर परेशान करना शुरू कर दिया। बेटी ने अपना माेबाइल नंबर बदल दिया तो उसने फेसबुक और अन्य तरह से नाम बदलकर अश्लील मैसेज और वीडियो भेजने शुरू कर दिया। 

बेटी इतनी डर गई कि उसने मोबाइल फोन बंद कर खुद को कमरे में बंद कर लिया। इसके बाद आरोपी ने छोटे बेटे को भेजे मैसेज में लिखा कि मेरे पिता पुलिस में हैं। तुम अपनी बहन को मेरे पास भेज दो, नहीं तो मैं तेजाब फेंककर उसे बर्बाद कर दूंगा। अंतिम धमकी भरा मैसेज उसने 20 मार्च को भेजा था। बागसेवनिया पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर केस डायरी और आरोपी शाहपुरा पुलिस को सौंप दिया।

तीन अलग-अलग नंबरों से किया परेशान- छात्रा ने शुरुआती मैसेज आने के बाद आरोपी का मोबाइल नंबर ब्लॉक कर दिया था। प्रदीप ने एक युवती के नाम समेत दो-तीन अलग-अलग नंबरों से उसे परेशान करना शुरू कर दिया। परेशान होकर उसने अपना मोबाइल ही बंद कर दिया। इसके बाद उसने छोटे भाई को 20 मार्च 2018 को धमकी भरा मैसेज भेजा।

महिला संबंधी अपराध की जांच निरीक्षक रैंक के अधिकारी करते हैं। बागसेवनिया टीआई के अवकाश पर होने के कारण मामले की केस डायरी शाहपुरा पुलिस को भेजी गई है। इस कारण जांच शाहपुरा थाने से की जाएगी।

-जितेंद्र पटेल – थाना प्रभारी शाहपुरा भोपाल

Share this news...