BREAKING NEWS
Search
rape

पिता के साथ रेलवे प्लेटफार्म पर सो रही दो साल की मासूम को चाेरी छिपे उठाकर एकांत में किया दुष्कर्म

510

दमोह। पिता के साथ रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म नंबर 1 पर सोती दो साल की मासूम को चाेरी छिपे उठाकर एकांत में दुराचार करने वाला आरोपी अाखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। दमोह से फरार हुअा आरोपी खुरई रेलवे स्टेशन के पास चिरोंजी कालोनी में कबाड़ बीनतेहुए पकड़ा गया। कोतवाली टीआई अरविंद दांगी पुलिस के साथ दमोह के लिए उसे लेकर देर रात रवाना हुए। इससे पहले आरोपी के सीसीटीवी फुटेज दमोह रेलवे स्टेशन पर मिले थे। जिसके आधार पर उसकी तलाश प्रारंभ की गई थी। फुटेज के आधार पर आरोपी की पहचान सागर जिले के बंडा के पटहुआ भंडराना निवासी श्याम अहिरवार (35) के रूप में हुई थी।

आरोपी के फोटो पुलिस अधिकारियों ने जगह-जगह वायरल किए थे। जिस पर आरोपी के खुरई के पास होने की सूचना मिली थी। जिस पर खुरई एसडीओपी रवि भदौरिया और चंद्रजीत यादव सक्रिय हुए और उन्होंने दमोह की टीम के साथ आरोपी को दबोच लिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी आपराधिक किस्म का है। उसकी पत्नी भी साथ में नहीं रहती है। जबकि भाई, पिता सहित पूरा परिवार है। पांच साल से वह अपने घर नहीं गया है।

जुआ खेलते हुए पकड़ने पर पीटा था: खुरई पुलिस के मुताबिक जब अधिकारियों ने आरोपी का फोटो वायरल किया तो खुरई में भी इसकी जानकारी लोगों तक पहुंची, स्थानीय लोगों ने बताया कि आरोपी आसपास कबाड़ बीनने का काम करता है और उससे मिली राशि से शराब पीता है। कुछ दिनों पहले खुरई में स्टेशन के पास जुआ खेलते हुए पकड़े जाने पर आरोपी की बुरी तरह से पिटाई भी की गई थी, लेकिन इसके बाद भी वह खुरई के आसपास ही कबाड़ बीनकर बेचता और शराब पीकर यहां-वहां घूमता रहता था। दमोह में वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ट्रेन से खुरई पहुंच गया था। इसके बाद फिर से कबाड़ बीनकर घूमने फिरने लगा। पुलिस आरोपी को फांसी की सजा दिलाने के लिए 10 से 15 दिन में ही चालान पेश करेगी।

बार-बार बुआ को बुला रही है पीड़िता: रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 3 के पास जलसा में तीन दिन पहले दुष्कर्म का शिकार हुई दो साल की मासूम की सेहत में सुधार हो रहा है, लेकिन अभी प्राइवेट पार्ट में घाव गंभीर होने की वजह से उसे दवाओं का भारी डाेज दिया जा रहा है, जिसे सहन करने के लिए उसे हर दिन दो से तीन ग्लोकोज की बॉटलें चढ़ाई जा रही है। हालांकि मासूम अब होश में है और हल्का-फुल्का खाना भी खा रही है।

– उसकी देखरेख के लिए दमोह से पुलिस बल भी तैनात किया गया है। एक महिला एसअाई पीड़ित की निगरानी के लिए तैयार की गई है। पीड़िता की सेहत में सुधार हो रहा है, मगर उसे दवाइयां और इंजेक्शन दिए जा रहे हैं। क्योंकि उसका घाव गंभीर है और उसे भरने में अभी समय लगेगा।

– पीड़िता मन बहलाने के लिए कभी मोबाइल लेकर खेलती है तो कभी चॉकलेट, चिप्स और टोस्ट मांगती है। पिछले दो दिन से पीड़िता अपनी बुआ और बुआ की बेटी को वर्षा को बुला रही है। शनिवार को उसने फिर से जिद की और बुआ को बुलाने को लेकर रोने लगी। हालांकि पुलिस की ओर से उसकी बुआ को बुलाने का प्रयास गया है।

– पीड़िता और उसकी बुआ की लड़की की आपस में दोस्ती है, दोनों साथ में खेलती थीं, मगर उसका पिता पीड़िता को लेकर दमोह चला गया था, जहां पर उसके साथ यह घटना हो गई, वह साथ लेकर नहीं जाता तो शायद यह वारदात नहीं हो पाती।

भोजन देना चालू कर दिया है: एसआई ने बताया कि बच्ची को आहार देना शुरू कर दिया है। बच्ची पूरी तरह होश में है और अपने पिता से बात भी कर रही है। सर्जरी के बाद बच्ची के घाव भर रहे हैं और उसे अस्पताल से छुट्टी मिलने में कम से कम एक हफ्ते का समय लगेगा। उधर वित्तमंत्री जयंत मलैया ने पीड़िता का हाल जाना है और आरोपी को हर हाल मंे पकड़कर जेल भेजने की बात कही थी।