BJP- Janmanchnews.com

‘एक देश एक चुनाव’ के तहत मोदी सरकार करा सकती है इतने राज्यों में एक साथ चुनाव

222

नई दिल्ली। 2019 में होने वाले आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा अपनी पूरी तैयारी में लगी है। सभी राज्यों में भाजपा अब अपने कार्यकर्ताओं को जोड़ने में लगी है। चुनाव को लेकर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अलग अलग राज्यों का दौरा भी कर रहे है और सभी राज्यों की चुनाव मॉनिटरिंग भी खुद कर रहे है।

 

Gallery with ID 7 doesn't exist.

इसे पहले तीन साल के अंत तक तीन राज्यों के चुनाव होने वाले है जिसको लेकर भाजपा ने इंदौर में चुनावी कैंप का सेटअप किया है। जिससे कि तीनों राज्यों की  मॉनिटरिंग की जा सके। वही मोदी सरकार चुनाव को अलग नजरिये से देख रही है। मिली जानकारी के मुताबिक ‘एक देश एक चुनाव’ को लेकर मोदी सरकार लगी हुई है।

जिसको लेकर मंगलवार को विधि आयोग के चैयरमैन बीएस चौहान ने देश की दोनों बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों के प्रतिनिधि मंडलों से मुलाक़ात कर एक देश एक चुनाव पर उनकी पार्टी राय जानने के लिए बुलाया था। इससे पहले भी कई क्षेत्रीय पार्टियों को ‘एक देश एक चुनाव’ पर बात करने के लिया मोदी सरकार ने बुलाया था। 

सूत्रों की माने तो कई चुनाव आयोग और अधिकांश राजनीतिक पार्टियां ‘एक देश एक चुनाव’ को लेकर राजी भी है। लेकिन आपको बता दें,  अगर सभी दल इस फार्मूले पर राज़ी हो जाती भी है। लेकिन उसके बाद भी संविधान में संशोधन करना पड़ेगा। 

वहीं लोकसभा चुनाव के बाद अक्टूबर 2019 में हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड के विधानसभा चुनाव होने है। ऐसे में इन राज्यों में भाजपा की सरकारे है। तो भाजपा इन राज्यों में चुनाव पहले ही करा सकती है।